कोरोना काल के बीच हत्या की एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यह घटना मुंबई की है जहां एक 32 साल की बहू ने अपनी 70 साल की सास को मौत  के घाट उतार दिया। बहू ने घटना को अंजाम लालच में आकर दिया। सास 4 फ्लैट की मालिक थी बहू ने फ्लैट हड़पने के लालच में इस खौफनाक घटना को अंजाम दिया। ये मामला मुंबई में चेंबूर की पेस्टम सागर कॉलोनी का है। मृतक महिला की पहचान संजना पाटिल के रूप में हुई है। सोमवार शाम संजना को गंभीर चोट आने की वजह से राजावाड़ी अस्पताल ले जाया गया। उसके परिवार ने दावा किया कि वह बाथरूम में गिर गई थी। पुलिस के मुताबिक, झगड़ा होने पर बहू ने अपनी सास को पहले क्रिकेट बैट से बुरी तरह पीटा और फिर मोबाइल चार्जर के तार से गला घोंटकर उन्हें मार दिया।

जानकारी के मुताबिक सास के शरीर पर लगभग 14 चोटें थीं और उनकी गर्दन पर खिंचाव के निशान को देखते हुए अस्पताल के लोगों को शक हुआ। इसके बाद, उन्होंने इस मामले की सूचिना पुलिस को दी। मामले को फिर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। पुलिस की कड़ी पूछताछ के बाद बहू ने उस दौरान कुछ नहीं कबूला। वहीं जब महिला की बेटी से बात हुई तो उसने मां की करतूतों के बारे में कबूल किया। बेटी ने बताया कि मां और दादी के बीच में लड़ाई हुई थी।

वहीं इस पूरी घटना को लेकर एक अधिकारी ने बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि बुजुर्ग महिला भीख मांगती थी और घर में कहीं भी पैसे छिपा देती थी। वहीं जानकारी के मुताबिक आरोपी बहू के पास मृतक सास के सोने के जेवर भी मिले। जानकारी के मुताबिक, मृतका संजना के पति कुछ साल पहले गुजर गए थे। इस दंपति की कोई संतान नहीं थी, इसलिए उसने अपने पति के भाई के बेटे दिनेश को गोद लिया। उनके पास चार फ्लैट थे- दो चेम्बूर में और दो वर्ली में। उसने तीन फ्लैट किराए पर दिए थे और चौथे में अपने गोद लिए हुए पुत्र और उसकी पत्नी के साथ रहती थी। 

किराए पर दिए हुए फ्लैटों से पैसे आते रहते थे। इसके बावजूद भी हैरान कर देने वाली बात यह थी कि मृतका के घाटकोपर इलाके के एक जैन मंदिर के बाहर भीख मांगती थी। जांच के दौरान सामने आया कि सास-बहू के बीच काफी नोकझोंक हुई। इसके बाद बहू अंजना ने गुस्से में आकर सास के ऊपर बैट से वार कर दिया। जिसके चलते सास बेहोश हो गई, लेकिन सास की सांसें चल रही थी। बहू ने गुस्से में आकर मोबाइल चार्जर के तार से सास की बुरी तरह गला दबा दिया, जिससे सास की मौत हो गई।