उज्बेकिस्तान से एक दिल दहलाने वाला वीडियो सामने आया है। यहां एक मां ने अपने तीन साल के मासूम को दर्दनाक मौत देने के लिए भालू के पिंजरे (bear cage) में फेंक दिया। यह घटना उज्बेकिस्तान के ताशकंद स्थिति एक चिडिय़ाघर (Tashkent Zoo) की है। इस घटना का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। 

खबरों के अनुसार तीन साल की मासूम बच्ची अपनी मां के साथ चिडिय़ाघर घूमने गई थी। यहां मां बच्ची को भालू दिखाने (Tashkent Zoo) के लिए बाड़े की रेलिंग के पास लेकर खड़ी हो गई। इसके बाद मां ने जानबूझकर बच्ची को अपने हाथों से छोड़ दिया। जैसे ही यह घटना सामने आई हडक़ंप मच गया। चिडिय़ाघर के कर्मचारी तुरंत सक्रिय हो गए और वहां बच्ची के पास पहुंच गए। गनीमत इस बात की रही कि भालू ने बच्ची को सूंघा (Mother Dropped Her Daughter In The Front Of Bear) और वहां से दूर चला गया। तब तक कर्मचारियों ने भालू को बाड़े के दूसरे हिस्से में बंद कर दिया और बच्ची को बचा लिया। बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल उसे मामूली चोटें लगी हैं।

बता दें कि घटना का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने बच्ची की मां को गिरफ्तार कर लिया है। मां पर बच्ची के हत्या के प्रयास का आरोप लगाया गया है। अगर आरोप साबित हो जाता है तो महिला को 15 साल की सजा हो सकती है। वहीं, चिडिय़ाघर के एक प्रवक्ता (spokesperson of zoo) ने कहा कि महिला ने जानबूझकर लडक़ी को भालू के घर में धकेला था। इसके अलावा वहां मौजूद लोगों ने भी उनके बयान की पुष्टि की। लोगों का कहना है कि उस वक्त हमने महिला को रोकने की कोशिश की, लेकिन तब तक वह अपनी बेटी को भालू के बाड़े में फेंक चुकी थी। हालांकि महिला ने ऐसा क्यों किया इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है।