असम में एक साल पहले सुरक्षा बलों को चमका देकर भागा NDFB-S का खूंखार उग्रवादी पकड़ा गया है। इस मोस्ट वांटेड उग्रवादी को चिरांग पुलिस तथा 5वीं गढ़वाल रेजीमेंट ने संयुक्त अभियान चलाकर पकड़ा है। यह उग्रवादी National Democratic Front of Bodoland-Songibiji (NDFB-S) का है। इस उग्रवादी की पहचान Kamakhya Daimary पुत्र Khorde Ch Daimary के रूप में हुई जो राज्य के पश्चिमी हिस्से के कोकराझाड़ जिले के कोकराझाड़ पुलिस थाने के अंतर्गत आने वाले बोरो बोड़ा कुरसकाती गांव रहने वाला है। सुरक्षाबलों ने इसको 8 सितंबर को गिरफ्तार किया था।

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी को इस उग्रवादी की काफी समय से तलाश थी। इसके खिलाफ NIA case (No. RC-01/2015/NIA-GUW सेरफनगुडी में तथा NDFB-S case पाकिरीगुडी में दर्ज है।  इसके अलावा इसके खिलाफ सेरफनगुडी पुलिस थान में भी केस No.65/2014 dated 24/12/2014 दर्ज है। इसके खिलाफ एनआईए ने मार्च 2016 में चार्जशीट भी दाखिल की थी। 

हालांकि यह उग्रवादी 25 अप्रैल 2018 को न्यायिक हिरासत में था तथा कोर्ट में पेश किए जाने से पहले ही जेल प्रशासन को चमका देकर भाग निकला था।