आईटी नियमों के तहत सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स फेसबुक (Facebook), वॉट्सऐप (WhatsApp) और इंस्‍टाग्राम (Instagram) पर सख्‍त कार्रवाई की गई है। वॉट्सऐप ने जहां 20 लाख से ज्‍यादा भारतीय यूजर्स को बैन (Indian Users Ban) कर दिया है। पैरेंट कंपनी फेसबुक ने करोड़ों कंटेट्स को अपने प्‍लेटफॉर्म से हटा (Content Removed) दिया है। इसके अलावा इंस्‍टाग्राम ने भी 20 लाख से ज्‍यादा कंटेंट्स को हटाया है।

16 जून से 31 जुलाई के बीच 594 शिकायतों मिलने पर 3,027,000 भारतीय यूजर्स के WhatsApp Accounts बंद कर दिए थे। इसको लेकर कंपनी ने कहा है कि 95 फीसदी मामलों में स्‍पैम मैसेजेज के कारण अकाउंट्स को बैन किया गया है। वॉट्सऐप ने बताया कि एंड-टू-एंड एंक्रिप्शन पॉलिसी के कारण वे यूजर्स के मैसेज नहीं देख पाते हैं। इस वजह से यूजर्स की सुरक्षा का ध्यान रखने के लिए अकाउंट्स से मिलने वाले संकेतों, एंक्रिप्शन के बिना काम करने वाले फीचर्स और यूजर रिपोर्ट्स को समझकर फैसला लिया जाता है। बता दें कि नए आईटी नियमों के चलते सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को हर महीने कंप्‍लायंस रिपोर्ट देनी पड़ती हैं।

कंप्‍लायंस रिपोर्ट के अनुसार 3 करोड़ से ज्यादा कंटेंट में स्पैम 2.9 करोड़, वॉयलेंस 26 लाख, अडल्ट न्यूडिटी व सैक्शुअल एक्टिविटी 20 लाख, हेट स्पीच 2,42,000 समेत दूसरे ऐसे मुद्दों से जुड़े कंटेंट शामिल हैं, जिनसे माहौल खराब होने की आशंका रहती है। इसलिए ऐसे सभी कंटेंट के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई करते हुए उन्‍हें प्‍लेटफॉर्म से हटा दिया गया।