भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों में स्थिरता/कमी देखी जा रही है, हालांकि मौत की संख्या अब भी 3 हजार से ज्यादा दर्ज की जा रही है। पिछले कुछ दिनों में संक्रमण से ठीक होने वालों की संख्या कोविड-19 के रोज आ रहे नए मरीजों से अधिक रही है। शुक्रवार को कर्नाटक में सबसे ज्यादा 41,779 नए मामले, महाराष्ट्र में 39,923, केरल में 34,694 और तमिलनाडु में 31,892 संक्रमण के नए मामले दर्ज किए गए। 

देश में एक्टिव केस (इलाज करा रहे लोग) की संख्या अब भी 36 लाख से ऊपर है। कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण देश में पैदा हुई स्वास्थ्य संकट के बीच दूसरे देशों से मदद लगातार जारी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कल बताया कि दूसरे देशों से अब तक 10,796 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर, 12,269 ऑक्सीजन सिलेंडर, 19 ऑक्सीजन जेनेरेशन प्लांट, 6,497 वेंटिलेटर/बाई पैप, 4.2 लाख रेमडेसिविर की डोज से सहायता के रूप में आ चुकी है। इसके अलावा पीपीई किट, टेस्ट किट, मास्क, दवाइयां और अन्य मेडिकल सामान भी लगातार आ रहे हैं। भारत में अब तक 18 करोड़ वैक्सीन की डोज लगाई गई है, जिसमें 4 करोड़ से ज्यादा लोगों को दोनों डोज लगाई जा चुकी है। 

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि राज्य में 2000 से ज्यादा पुलिसकर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। उन्होंने कहा, “इनमें से 1800 मरीज ऐसे हैं, जो कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके हैं। सबसे ज्यादा देहरादून में 300 पुलिसकर्मी संक्रमित हैं।