मानसूनी सिस्टमों के प्रभाव से मध्यप्रदेश में एक फिर मानसूनी गतिविधियां बढ़ गयी हैं, जिसके चलते प्रदेश भर में हल्की से मध्यम वर्षा हुयी। इस बीच प्रदेश के दक्षिणी हिस्से, होशंगाबाद, बैतूल, छिंदवाड़ा सहित कुछ अन्य स्थानों पर अच्छी बारिश हुयी है। मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ पी के साहा ने यूनीवार्ता को बताया कि कम दवाब का क्षेत्र कमजोर हो गया है और यह झारखंड़ में ऊपरी हवाओं के चक्रवात के रुप में बना हुआ है। 

इसके अलावा एक ट्रफ लाइन भी मध्यप्रदेश से गुजर रही है, जिसके कारण प्रदेश भर में पिछले चौबीस घंटों के हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गयी, इस बीच प्रदेश के दक्षिणी हिस्सों में कुछ स्थानों पर अच्छी वर्षा हुयी है। पिछले चौबीस घंटों के दौरान होशंगाबाद में 58.9 मिमी, छिंदवाड़ा में 39.2 मिमी, शाजापुर में 36.4 मिमी, बैतूल में 32.2 मिमी, मंडला में 25 मिमी, सिवनी में 22.6 मिमी, जबलपुर में 18.8 मिमी, उमरिया में 16.8 मिमी, खरगोन में 14 मिमी, पचमढ़ी में 10 मिमी, खंडवा में 7 मिमी, नरसिंहपुर में 6 मिमी, भोपाल में 4.4 मिमी, सतना में 3.8 मिमी के अलावा सीधी, उज्जैन, रतलाम सहित अन्य स्थानों पर बारिश हुयी। 

डॉ. साहा ने बताया कि अगले चौबीस घंटों के दौरान बैतूल, खंडवा और बुरहानपुर जिलों में कहीं कहीं भारी से अति भारी वर्षा की संभावना है, तो वहीं रीवा, सतना, अनूपपुर, उमरिया, जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बालाघाट, सागर, राजगढ़, सीहोर, बड़वानी, झाबुआ, इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, हरदा, धार, खरगोन, देवास और शाजापुर जिलों में कहीं कहीं भारी बारिश की चेतावनी जारी की गयी है। राजधानी भोपाल में कल रात हल्की वर्षा हुयी। इसके बाद आज सुबह से यहां बादल छाए रहे। इस दौरान हल्की बूंदाबांदी हुयी। अगले चौबीस घंटों के दौरान यहां हल्की से मध्यम बारिश होने के आसार हैं। अधिकतम तापमान 28.5 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य है तथा न्यूनतम तापमान 23.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, यह सामान्य से एक डिग्री अधिक रहा।