बंदरों की शरारतों से तो कई शहरों के लोग परेशान हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश के सीतापुर में एक बंदर ने ऐसी शरारत कर डाली, जिसकी चर्चाएं हो रही हैं। सीतापुर के खैराबाद थाना क्षेत्र के कासिमपुर निवासी भगवानदीन अपनी जमीन की बिक्री करने पर रजिस्ट्री करवाने रजिस्ट्री कार्यालय गए थे। 

बिक्री पर उन्हें चार लाख रुपए कैश मिला था। यह कैश उन्हें एक बैग में दिए गए थे। वो रुपयों से भरा बैग लेकर जा रहे थे। इस दौरान बंदर ने बुजुर्ग के हाथ से बैग छीन लिया और पेड़ पर जाकर चढ़ बैठा। उसके बाद बैग से नोट निकाल कर फेंकने लगा। 500-500 रुपए के नोटों की बारिश देख राह चलते लोग रुक गए और नोटों की बारिश देखने लगे। 

लोगों ने बंदर से रुपयों से भरा बैग लेने का काफी प्रयास भी किया, लेकिन बंदर ने बैग में रखी नोटों की गड्डियां निकालीं और कुछ रुपए फाड़ दिए तो कुछ हवा में उड़ा दिए। फिर बंदर के हाथ से रुपयों से भरा बैग नीचे गिर गया, लेकिन एक 500 की गड्डी उसके हाथ में ही रह गई। बंदर ने करीब 10 से 12 हजार रुपए फाड़ ही दिए।