प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार और रविवार को कोलकाता के दो दिवसीय आधिकारिक दौरे पर कोलकाता जायेंगे जहां वह कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के समारोह तथा कई अन्य कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे।


प्रधानमंत्री शनिवार को कोलकाता में जीर्णोद्धार की गयी चार ऐतिहासिक इमारतों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इन इमारतों में पुराना करेंसी भवन, बेल्वेडिअर हाउस, मेटकाफ हाउस और विक्टोरिया मेमोरियल हॉल शामिल है।


केन्द्रीय संस्कृति मंत्रालय ने इन चार ऐतिहासिक इमारतों का जीर्णोद्धार किया है। इस प्रक्रिया में इन इमारतों के ऐतिहासिक स्वरूप को ज्यों का त्यों बनाये रखा गया है। प्रधानमंत्री के निर्देश पर संस्कृति मंत्रालय देश भर में महानगरों की प्रमुख ऐतिहासिक इमारतों के आस-पास सांस्कृतिक आयोजनों के लिए स्थान बना रहा है।


इसकी शुरुआत कोलकाता, दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद और वाराणसी से की गई है। मोदी कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के 150 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित समारोह में भी शामिल होंगे। इस अवसर पर वह ट्रस्ट के मौजूदा और सेवानिवृत कर्मचारियों के पेंशन कोष में कमी की भरपाई के लिए 501 करोड़ रूपये का चेक देंगे।


मोदी कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट के 105 और 100 वर्ष आयु के दो वयोवृद्ध पेंशनधारियों नगीना भगत और नरेश चन्द्र चक्रबर्ती को सम्मानित करेंगे। वह इस अवसर पर पोर्ट ट्रस्ट से जुड़ा एक विशेष गीत भी जारी करेंगे। पोर्ट ट्रस्ट के 150 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में उसकी पुरानी जेट्टी के स्थान पर वह एक पट्टिका का अनावरण करेंगे।


मोदी नेताजी सुभाष ड्राई डाक पर जहाज निर्माण और मरम्मत केन्द्र का भी उद्धाटन करेंगे जिसे हाल ही में नया रूप दिया गया है। श्री मोदी सामानों की सुगम आवाजाही के लिए पोर्ट में फुल रेक हैंडलिंग सुविधा का उद्धाटन और उन्नत रेलवे अवसंरचना राष्ट्र को समर्पित करेंगे।


वह हल्दिया डॉक परिसर में बर्थ नबंर 3 में मशीन संचालित सुविधाओं और एक प्रस्तावित रिवरफ्रंट विकास योजना का भी शुभारंभ करेंगे। वह सुंदरबन की 200 आदिवासी छात्राओं के लिए प्रीतिलता छत्री में एक कौशल विकास केन्द्र का उद्धाटन करेंगे। यह कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट और पूर्वांचल कल्याण आश्रम, गोसाबा की संयुक्त परियोजना है।