भाजपा के वरिष्ठ नेता और राजसभा सांसद सुशील कुमार मोदी (Rajya Sabha MP Sushil Kumar Modi) ने बीते दिन कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा मारे गए योगेन्द्र ऋषिदेव (Yogendra Rishidev ) और राजा कुमार (Raja Kumar) के पार्थिव शरीर पर पटना एयरपोर्ट पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इसकी जानकारी उन्होंने होने सोशल माइक्रोब्लॉगिंग ऐप, Koo के माध्यम से दी है। 

Sushil kumar modi

पोस्ट के माध्यम से वे कहते हैं, "कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा मारे गए योगेन्द्र ऋषिदेव एवं राजा कुमार के पार्थिव शरीर पर पटना एयरपोर्ट पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए।"

इस पोस्ट में श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए सुशील कुमार मोदी जी की तस्वीरें भी देखी जा सकती हैं। 

अररिया जिले के राजा ऋषिदेव और योगेंद्र ऋषिदेव का पार्थिव शरीर मंगलवार को कश्मीर से पटना पटना पहुँचा। पटना हवाई अड्डे पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और राजसभा सांसद सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) के साथ ही बिहार के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद (Deputy Chief Minister Tarkishore Prasad) , बिहार सरकार के मंत्री जीवेश कुमार, भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष शिव नारायण महतो (BJP state vice-president Shiv Narayan Mahato)  समेत कई लोग मौजूद थे। 

भाजपा नेताओं ने कहा कि केंद्र सरकार आतंकवादियों से चुन-चुन कर बदला लेगी। इस तरह की कायराना हरकत में शामिल आतंकियों को छोड़ा नहीं जाएगा। भारत की सेना लगातार आतंकवादियों को खोज कर मार गिराने का काम कर रही है। आतंकवादियों ने कायराना हरकत की है और उसे हमारी सेना के जवान उसी भाषा में जवाब देंगे। 

बता दें कि आतंकियों ने कुलगाम के वनपोह इलाके के मकान में घुसकर 3 बिहारी मजदूरों (shot 3 Bihari laborers) को गोली मारी थी, जिसमें दो की मौत हो गई थी।  रानीगंज के मिर्जापुर का चुनचुन ऋषिदेव आतंकवादी की गोली से घायल हो गया था, जिसका इलाज कश्मीर में ही चल रहा है। मरने वालों में अररिया प्रखंड के बंगामा पंचायत स्थित खेरूगंज के योगेंद्र ऋषिदेव भी शामिल थे, वहीं एक दूसरे मजदूर राजा ऋषि देव रानीगंज प्रखंड के बसैठी के रहने वाले थे। 

दरअसल, जम्मू कश्मीर में सेना के एंटी टेरर ऑपरेशन (Anti-terror operation of the army) से बौखलाए आतंकी एक के बाद एक गैर कश्मीरियों (killing non-Kashmiris) की हत्या कर रहे हैं। यह दिल दहला देने वाली बात है कि महज़ 11 दिनों में चार बिहारियों की हत्या कर दी गई है। बीते 5 अक्टूबर को भागलपुर के जगदीशपुर के रहने वाले वीरेंद्र पासवान की श्रीनगर के लाल बाजार में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। 

वीरेंद्र वहाँ ठेला लगाकर गोलगप्पे बेचता था। इसके बाद शनिवार को बांका के परघड़ी गांव के रहने वाले अरविंद कुमार साह की श्रीनगर के ईदगाह क्षेत्र स्थित एक पार्क के बाहर आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वहीं रविवार यानी 17 अक्टूबर की शाम कुलगाम के वनपोह इलाके में अररिया जिले के रहने वाले राजा ऋषिदेव और योगेंद्र ऋषिदेव को मौत के घाट उतार दिया गया।