शिलोंग  । मेघालयमें अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अपनी चुनावी बिगुल बजा चुकी है। चुनाव  प्रचार अभियान की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की।  राज्य की राजधानी व राजनीति का केंद्र शिलोंग को चुना गया। भाजपा ने मोदी की रैली के माध्यम से सत्तारूढ कांग्रेस सरकार को यह जताने की भी कोशिश की  है कि अगला विस चुनाव जीतने के लिए उनकी पार्टी मैदान में उतर चुकी है

फिलहाल मोदी की रैली में लोगों की भीड़ देखकर न केवल प्रधानमंत्री बल्कि पार्टी नेताओं  को भी लगने लगा है कि मेघालय फतह के जो सपने पार्टी देख रही है, साकार हो सकता है रैली को लेकर जनत में भी जबर्दस्त उत्साह दिखा। 

मोदी को देखने के लिए पूर्व खासी हिल्स के अलावा जयंतिया और गारो हिल्स से भी लोग आए थे। मंच पर मोदी को यहा के पारंपरिक पहनावे में देख लोग काफी खुश दिखे। पोलो के 5 नंबर मैदान में आयोजित रैली में मोदी के आने  से तीन घंटे पहले ही लोग भर चुके थे। जैसे ही प्रधानमंत्री मंच पर आए, लोग मोदी-मोदी के नारे लगाने लगे। यह दृश्य एवं अभिवादन देख मोदी मंच के ठीक सामने आ गए ताकी लोग उन्हें अच्छे से उन्हें देख सके। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री पिछले दौरे का जिक्र करना नहीं भुले।

उन्होंने कहा कि साल 2016 में  मेघालय दौरा उनका सुखद अनुभव रहा। आज  भी उस सुखद अनुभव को याद करते है। यहा के लोगों  ने उन्हें इतना प्यार दिया कि बार -बार मेघालय आने का मन करता है मोफ़लाग में बजाए गए  नगाड़े का पल भी साझा किया उन्होंने कहा कि मेघालय महिला प्रधान राज्य है, लेकिन कानून-व्यवस्था लचर है। महिलाओं  और युवतियों के खिलाफ बढ़ती घटना चिंता का विषय है। 

प्रधानमंत्री के भाषण से लोग संतुष्ट दिखे। इस क्रम में कई लोगों ने कहा कि मोदी यहां की नब्ज को टटोलने में कामयाब रहे। मोदी ने स्थानीय मुद्दों को भी उठाया उनके भाषणों में खस्ताहाल सड़क, शुद्ध पेयजल, बिजली और शिलोंग में सड़क जाम जैसे मुद्दे सुनने को मिले स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में व्याप्त खामियों को भी गिनाया लोगों को लगा कि प्रधानमंत्री उनकी समस्याओं  को समझने में सक्षम हुए है विदित हो कि मोदी ने मेघालय प्रदेश भाजपा कार्यालय भवन का भी उदघाटन किया।