जन अधिकार पार्टी (जाप) के राष्ट्रीय संरक्षक एवं पूर्व सांसद रजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने आज यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों नेता आम लोगों को बांटने का काम कर रहे हैं लेकिन वे सफल नहीं होंगे।

यादव ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी एवं मुख्यमंत्री कुमार आम लोगों को बांटने का काम कर रहे हैं लेकिन वे सफल नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि बिहार की बद से बदतर कानून-व्यवस्था के लिए कुमार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।


जाप संरक्षक ने कहा कि आज देश गंभीर हालात से गुजरते हुए 'गृह युद्ध' की ओर बढ़ रहा है वहीं, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) धर्म और श्रीराम को भी बेच रही है, जिससे आज चारों तरफ नफरत और अशांति का वातावरण बना हुआ है। यह देश के लिए खतरा है। इसलिए, भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की ऐसी मंशा को कभी पूरा नहीं होने दिया जायेगा।


यादव ने कहा कि केंद्र सरकार नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागिरक पंजी (एनआरसी) एवं राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) के जरिए देश के लोगों के साथ अन्याय कर रही है। पुलिस की गोलियों के बल पर लोगों की आवाजों को दबाया जा रहा है, जिसे बदार्शत नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह सरकार के खिलाफ चल रहे आंदोलन के साथ खड़े हैं और अंतिम सांस तक रहेंगे।