बंगाल में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कोलकाता के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में हुए महारैली के अगले ही दिन सोमवार को सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस में भगदड़ देखी गई। टिकट नहीं मिलने से नाराज तृणमूल कांग्रेस के पांच विधायकों सहित बड़ी संख्या में अन्य नेताओं ने भाजपा का दामन थाम लिया। 

भाजपा में शामिल होने वाले विधायकों में रविंद्र नाथ भट्टाचार्य, जट्टू लाहिड़ी, सोनाली गुहा एवं दीपेंदु विश्वास और सीतल कुमार सरदार शामिल हैं। इसके अलावा मालदा के हबीबपुर से तृणमूल प्रत्याशी सरला मुर्मू ने भी भाजपा का झंडा थाम लिया। 

इसके अतिरिक्त मालदा जिला परिषद के 14 सदस्यों ने भी तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए। इसी के साथ मालदा जिला परिषद पर भाजपा का कब्जा हो गया। मालदा राज्य का पहला जिला परिषद है, जिस पर भाजपा का कब्जा हुआ है।