नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी (Congress party) ने महंगाई के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) को घेरा है। कांग्रेस के अनुसार केंद्र सरकार ने किचन में धारा 144 (section 144) लगा दी है।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा (Congress spokesperson Pawan Khera) ने मंगलवार को कहा, भूख, महंगाई, गरीबी इश्क मुझसे कर रही, एक होती तो निभाता तीनों मुझपर मर रहीं।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने जो हालात इस देश के किए देश में टमाटर-प्याज की किचन में 144 धारा लगी हुई है। पिछले साल के मुकाबले अब कीमत कहीं ज्यादा है। दिल्ली में टमाटर 100 रु से ज्यादा बिका है। लेकिन देश का मुद्दा कुछ और है। देश में बात कुछ और पर हो रही है।

उन्होंने कहा कि प्याज 50, शिमला मिर्च 100-120 रुपए प्रति किलों में बिक रही है। सब्जियों में दाम आसमान छू रहे हैं। चप्पल पर भी जीएसटी बढ़ाया जा रहा है, रेडीमेड-कपड़ों पर ज्यादा टैक्स वसूला जा रहा है।

पवन खेड़ा (Pawan kheda) ने केंद्र की मोदी सरकार (modi government) पर आरोप लगाते हुए कहा, 'मोदी जी (modi ji) तो एक साल बाद अपनी गलती स्वीकार करते हैं, लेकिन खामियाजा मध्यवर्ग भुगतता है। 7 साल का कार्यकाल उनकी गलतियों का सिलसिला भर है और कुछ नहीं। नोटबन्दी से शुरू हुआ सिलसिला ऐसा है की घर का खर्च चलाना मुश्किल हो गया है।'

खेड़ा ने कहा कि हम विपक्षी धर्म निभा रहे हैं। महंगाई के मुद्दे पर सरकार का ध्यान खींचना चाहते हैं। पीएम कहते हैं कि उनकी तपस्या में कमी रही। लेकिन महंगाई आसमान छू रही है।

केंद्र सरकार निश्चिंत है क्योंकि उसे पता है कि लोगों के गुस्से से कैसे निपटना है। वो एक दूसरे के खिलाफ गुस्सा भड़काते हैं, जाति पर, धर्म पर राजनीति करते हैं।

वहीं पंजाब में आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के प्रचार और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) के दिए बयान पर पलटवार करते हुए पवन खेड़ा ने कहा, 'केजरीवाल की भाषा दिल्ली को भी अब पसंद नहीं आ रही है। पंजाब को बिलकुल पसंद नहीं आएगी। वहां बोलते हैं कि 1000 रुपये देंगे, क्या दिल्ली में दिया? वहां कहते हैं टीचर्स की समस्या हल कर देंगे और दिल्ली में कॉलेजों के शिक्षकों की सैलरी नहीं मिल पा रही है।'