केंद्र सरकार की ओर से सोवेरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम का सब्सक्रिप्शन सोमवार 8 जून को शुरू हो चुका है। यह गोल्ड बॉन्ड स्कीम की तीसरी कड़ी है, जो सबसे पहले इसी साल अप्रैल में बाजार में उतारी गई थी। यह सब्सक्रिप्शन के लिए 12 जून तक खुला रहगेा। केंद्रीय बैंक ने ऐलान किया था कि सरकार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को 20 अप्रैल से सितंबर तक छह हिस्सों में जारी करेगी। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) भारत सरकार की ओर से जारी करेगा। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के लिए 1 ग्राम सोने का भाव 4,677 रुपये तय किया गया है। वहीं अगर ऑनलाइन खरीदते हें तो इस पर 500 रुपये प्रति 10 ग्राम या या 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट मिलेगी।

जानिए कब होंगे बॉन्ड

तीसरी सीरीज: 8 जून से लेकर 12 के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 16 जून को जारी की जाएगी।

चौथी सीरीज: 6 जुलाई से लेकर 10 जुलाई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 14 जुलाई को जारी की जाएगी।

पांचवीं सीरीज: 3 अगस्त से लेकर 7 अगस्त के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 11 अगस्त को जारी की जाएगी।

छठी सीरीज: 31 अगस्त से लेकर 4 सितंबर के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है। इसकी किस्त 8 सितंबर को जारी की जाएगी।

यहां से खरीद सकते हैं

निवेश गोल्ड बॉन्ड आप बैंकों, डाकघरों, एनएसई और बीएसई के अलावा स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के जरिए भी खरीद सकते हैं। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में निवेश करने वाला व्यक्ति एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 500 ग्राम सोने के बॉन्ड खरीद सकता है। वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है। इस स्कीम में निवेश करने पर आप टैक्स बचा सकते हैं। गोल्ड बांड में सोने में आने वाली तेजी का फायदा तो मिलता ही है। इस पर सालाना 2.5 फीसदी ब्याज भी मिलता है। ब्याज निवेशक के बैंक खाते में हर 6 महीने पर जमा किया जाएगा। अंतिम ब्याज मूलधन के साथ मेच्योरिटी पर दिया जाता है। मेच्योरिटी पीरियड 8 साल है, लेकिन 5 साल, 6 साल और 7 साल का भी विकल्प होता है. अगर सोने के बाजार मूल्य में गिरावट आती है तो कैपिटल लॉस का खतरा भी हो सकता है।