मोदी सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ा कदम उठाया है जिसका उन्हें जबरदस्त फायदा मिलने वाला है। यह फायदा भारतीय रेल और दूसरे केंद्रीय उद्यम से जनवरी 2020 से जून 2021 के बीच रिटायर हो रहे कर्मचारियों को मिलेगा। मोदी सरकार इन रिटायर कर्मचारियों को महंगाई भत्‍ते में 11 फीसद की बढ़ोतरी का फायदा देने जा रही है। इसके चलते जूनियर से सीनियर लेवल के कर्मचारी को रिटायरमेंट फंड में करीब 1 लाख से 7 लाख रुपये तक का फायदा मिलेगा। यह फायदा ग्रेच्युटी और छुट्टी के बदले नकद भुगतान के तौर पर किया जाएगा।

बताया गया है कि रिटायर केंद्रीय कर्मचारियों को पहले ही महंगाई भत्‍ते में बढ़ोतरी का फायदा दिया जा चुका है। अब बचे हुए विभागों के लोगों को इसका फायदा दिया जा रहा है। इस नियम के तहत रेलवे के सभी जोन के रिटायर कर्मचारी आ रहे हैं।

आसान शब्दों में समझें तो अगर रिटायरमेंट के समय किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी समय 40 हजार रुपये है तो उन्‍हें महंगाई भत्‍ते में 11 फीसद बढ़ोतरी से का फायदा मिलेगा। उनकी ग्रेच्युटी और छुट्टी के बदले भुगतान की रकम करीब 117000 रुपये बढ़कर मिलेगी। वहीं मूल वेतन  2,50,000 रुपए महीना है तो रिटायरमेंट फंड में सात लाख रुपये से ज्‍यादा की बढ़ोतरी होगी।

इस नियम के तहत अब 1 जनवरी 2020 से 30 जून 2020 के बीच रिटायर लोगों को 21 फीसद डीए के हिसाब से ग्रेच्युटी और छुट्टी के बदले पैसा दिया जाएगा। जबकि 1 जुलाई 2020 से 31 दिसंबर 2020 को रिटायर लोगों को 24 फीसद और 1 जनवरी 2021 से 30 जून 2021 के बीच रिटायर लोगों को 28 फीसद के हिसाब से रिटायरमेंट फंड दिया जाएगा।