बाथरूम में बैठकर भूल से भी मोबाइल फोन नहीं चलाएं अन्यथा जानलेवा बीमारी हो सकती है। जी हां, मोबाइल फोन आज के दौर में हर किसी की जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है। इसके बिना जिंदगी अधूरी लगती है और एक मिनट भी उससे दूर होते ही बेचैनी सी होने लगती है। इतना ही नहीं बल्कि कई लोग टॉयलेट में भी मोबाइल साथ लेकर जाते हैं ताकि टाइम पास हो सके, लेकिन यह गलत है।

टॉयलेट में मोबाइल लेकर जाने की आदत से आपको जानलेवा बीमारी हो सकती है। इसके अलावा आप और आपका परिवार जानलेवा बैक्टीरिया की चपेट में भी आ सकता है।

बवासीर की समस्या अब ज्यादा उम्र के लोगों के साथ ही युवाओं में भी आम हो गई है। बवासीर को पाइल्स भी कहा जाता है। बवासीर की समस्या होने में काफी हद तक आपका टॉयलेट में मोबाइल लेकर जाना भी जिम्मेदार है। दरअसल, जब आप मोबाइल लेकर कमोड में बैठते हैं तो आपका पूरा ध्यान मोबाइल पर ही होता है। इस वजह से आप काफी देर तक टॉयलेट में बैठे रहते हैं। इससे आपको हेमोरॉयड्स यानी बवासीर होने का खतरा बढ़ जाता है।

ज्यादातर लोग टॉयलेट में बैठकर समाचार पढ़ते हैं, सोशल मीडिया साइट्स चलाते हैं, वीडियोज देखते हैं या चैटिंग करते हैं। इसकी वजह से उनको टाइम का पता ही नहीं चलता है। काफी समय तक टॉयलेट मे बैठे रहने से एनस और लोअर रेक्टम की मांसपेशियों की नसों पर दबाव बढ़ जाता है। इससे बवासीर होने का खतरा बढ़ता है।

टॉयलेट में बैक्टीरिया होते हैं। ऐसे में मोबाइल को टॉयलेट में ले जाने से उस पर कीटाणु चिपक जाते हैं। टॉयलेट में हर चीज पर कीटाणु चिपके होते हैं। टॉयलेट से बाहर निकलकर आप हाथ तो धो लेते हैं लेकिन मोबाइल को नहीं धोते हैं। इसकी वजह से आपको कई तरह के इंफेक्शन हो सकते हैं।