NRC के विरोध में विपक्षी विधायकों ने असम की विधानसभा में ऐसा काम कर दिया जिसको लेकर चारों तरफ चर्चा हो हरी है। असम में करीब तीन महीने पहले आई एनआरसी सूची का विरोध विधानसभा के नए सत्र में भी जारी है। एनआरसी के अलावा असम सरकार की न्यू लैंड पॉलिसी का भी विरोध किया जा रहा है। विधायकों को विरोध इस कदर पहुंच गया कि वो जमीन पर लेट गए। 

विधायक शेरमन अली अहमद और दो अन्य विधायक एनआरसी और न्यू लैंड पॉलिसी के विरोधस्वरूप सदन में जमीन पर लेट गए। बता दें कि अंतिम एनआरसी में कुल 3,30,27,661 आवदेकों में से 19,06,657 आवेदक बाहर किए गए और 3,11,22,004 आवेदकों को सूची में शामिल किया गया।

दूसरी तरफ राज्य की न्यू लैंड पॉलिसी को 21 अक्टूबर को राज्य कैबिनेट ने अपनी मंजूरी दी थी। इससे पहले साल 1989 में एक लैंड पॉलिसी बनाई गई थी, अब 30 साल बाद एक नई लैंड पॉलिसी अस्तित्व में आई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नई लैंड पॉलिसी असम के स्थानीय निवासियों के अधिकारों को मजबूती प्रदान करेगी।