द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) सुप्रीमो M.K. स्टालिन तमिलनाडु के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण कर ली है। स्टालिन को चेन्नई के राजभवन में एक सादे समारोह में राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने पद की शपथ दिलाई गई है। स्टालिन के साथ उनके मंत्रिमंडल के 33 सदस्यों ने भी पद की शपथ ली है। यह मुख्यमंत्री के रूप में स्टालिन का पहला कार्यकाल है।


जानकारी के लिए बता दें कि 69 साल की उम्र में वह तमिलनाडु के सबसे पुराने पहले मुख्यमंत्री हैं। मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभालने के तुरंत बाद पांच आदेश जारी किए हैं। पहले ऑर्डर में 2.07 करोड़ राइस-कार्ड धारकों को 2,000 रुपये की कोरोना राहत थी। दूसरा आदेश यह था कि सरकार निजी अस्पतालों में कोरोना रोगियों के इलाज का खर्च वहन करेगी।


आधिकारिक बयान में कहा गया कि "मुख्यमंत्री ने 4,153.39 करोड़ रुपये के खर्च से 2.07 करोड़ परिवार के प्रत्येक कार्डधारक को 2,000 रुपये का विस्तार करने के आदेश पर हस्ताक्षर किए है "। उन्होंने 16 मई से एविन दूध की कीमतों में 3 रुपये प्रति लीटर की कमी लाने वाले एक आदेश पर भी हस्ताक्षर किए। उन्होंने महिलाओं को टाउन बसों में सामान्य सेवाओं में मुफ्त यात्रा करने की अनुमति देने वाला एक आदेश भी जारी किया है।