मिजोरम के अधिकारियों ने उत्तरी त्रिपुरा जिले में छह राहत शिविरों में रह रहे 4,278 परिवारों के 26,128 ब्रू शरणार्थियों की पहचान की है। राज्य के गृह सचिव लालबिआकजामा ने सोमवार को यह जानकारी दी। लालबिआकजामा ने कहा कि राहत शिविरों में रखे गये ब्रू शरणार्थियों की वापसी प्रक्रिया के तहत मिजोरम के वास्तविक निवासियों की पुन: पहचान से जुड़ा काम 20 जुलाई को पूरा हो गया। गृह सचिव ने कहा कि यह आंकड़ा अंतिम नहीं है क्योंकि त्रिपुरा से लौटे अधिकारियों के साथ बैठक के बाद इसकी समीक्षा की जाएगी। 

ममित, कोलासिब और लुंगलेई जिले के अधिकारियों ने यह पता लगाने के लिए गणना की कि कौन लोग मिजोरम लौटने के इच्छुक हैं। यहीं से 1997 में जातीय संघर्ष के कारण ब्रू समुदाय के लोग त्रिपुरा भाग गए थे। लालबिआकजामा ने बताया कि अधिकारियों ने 3 जुलाई से दूसरे चरण की पहचान प्रक्रिया शुरू की और 20 जुलाई की समय सीमा के भीतर इस कार्य को पूरा कर लिया। पिछले साल नवंबर में भी उत्तरी त्रिपुरा जिले में राहत शिविरों में 5,407 परिवारों से ताल्लुक रखने वाले 32,876 ब्रू शरणार्थियों की पहचान की थी।