मिजोरम सरकार की ओर से सरकारी कर्मचारियों के लिए उनकी ड्रेस को लेकर एक सर्कुलर जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि सभी सरकारी कर्मचारी हफ्ते में कम से कम एक बार ट्रेडिशनल ड्रेस यानी वहां की पारंपरिक पोषाक पहनकर कार्यालय आएं। यह फरमान मिजो नेशनल फ्रंट पार्टी की राज्य सरकार द्वारा जारी किया गया है।

मुख्यमंत्री की स्वीकृति से जारी हुआ सर्कुलर

मिजोरम में सरकारी कर्मचारियों द्वारा हफ्ते में एकबार ट्रेडिशनल ड्रेस पहनकर कार्यालय आने के सर्कुलर को मुख्यमंत्री जोरामथंगा द्वारा मंजूरी दी गई है। इस सर्कुलर को मिजोरम सरकार के कमिश्नर और जनरल सेक्रेटरी पी बैकतलुंगा द्वारा जारी किया गया है।

यहां भी जारी हो चुका है ऐसा आदेश

आपको बता दें कि ऐसा ही आदेश 2 साल पहले असम की भाजपा सरकार द्वारा भी जारी किया गया गया था जिसमें वहां के सरकारी कर्मचारियों को ट्रेडिशनल ड्रेस पहनकर आना होता था। इसमें महीने के प्रत्येक पहले और तीसरे शनिवार को पुरूषों को धोती—कुर्ता तथा महिलाओं को मेखेला चादोर पहनकर कार्यालय आना होता था। यह विचार असम के मुख्य सचिव वीके पिपेरसेनिया द्वारा निकाला गया था तथा वो खुद ऐसी ही पोषाक पहनकर आते ​थे।