मुजफ्फरपुर। छोटे-छोटे बच्चे को ऐसे कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर कर हिस्सा लेना चाहिए। बच्चों के मानसिक विकास के लिए जरूरी है। 

उक्त बातें केंद्रीय विद्यालय संगठन के सहायक आयुक्त अनुराग यादव ने कहीं। केंद्रीय विद्यालय गन्नीपुर में संकुल स्तरीय सामाजिक विज्ञान प्रदर्शनी के उद्घाटन समारोह में उन्होंने कहा कि इससे नेतृत्व क्षमता का भी विकास होता है। केंद्रीय विद्यालय के बच्चे काफी मेधावी हैं।

 कई बच्चे राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन कर चुके हैं। सामाजिक विज्ञान प्रदर्शनी का विषय मिजोरम था। स्कूली बच्चों ने मिजोरम की संस्कृति, रहन-सहन, कला संस्कृति का जीवंत चित्रण किया है। 

बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए। केंद्रीय विद्यालय मुजफ्फरपुर के अलावा बेला, छपरा, जवाहर नगर, गोपालगंज, मोतिहारी, समस्तीपुर, दरभंगा 1, दरभंगा 2, झपहां, शिवहर, बेतिया, पूसा, केंद्रीय विद्यालय कंकड़बाग 1, केंद्रीय विद्यालय कंकड़बाग 2 के छात्र-छात्राओं ने प्रतियोगिता में भाग लिया। 

दो दिवसीय प्रतियोगिता के अंतिम दिन मंगलवार को सफल प्रतिभागियों की सूची जारी होगी। कई स्कूल के बच्चे मंगलवार को प्रदर्शन करेंगे। संकुल स्तरीय प्रतियोगिता के सफल प्रतिभागी 22 सितंबर से होने वाली रीजनल प्रतियोगिता में भाग लेंगे। 

सामाजिक विज्ञान प्रदर्शनी में 15 स्कूलों के 550 बच्चों ने ़भाग लिया है। केंद्रीय विद्यालय के प्राचार्य संजीव कुमार, डॉ. उमाशंकर सिंह सहित विभिन्न स्कूलों के शिक्षक मौजूद थे।