'हिंदूवादी पार्टी' की छवि से बाहर निकलते हुए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने ईसाई बहुल मिजोरम में मिशनरी सेल की स्थापना की है। बता दें कि पूर्वोत्तर का एकमात्र राज्य है, जहां बीजेपी सरकार में नहीं है। पार्टी के राज्य मुख्यालय में सेल का शुभारंभ करते हुए मिजोरम बीजेपी के अध्यक्ष जेवी हलुना ने कहा कि हम इस डर को खत्म करना चाहते हैं कि बीजेपी हिंदूवादी और ईसाई विरोधी है। 

यह सेल मिजो मिशनरीज के लिए 24X7 हेल्पलाइन चलाएगी। हलुना ने कहा, इसे देशभर में बीजेपी के पदाधिकारियों के माध्यम से किसी भी ईसाई मिजो मिशनरी की मदद के लिए स्थापित किया गया है।उन्होंने स्पष्ट किया कि एक सेक्युलर पार्टी होने के नाते बीजेपी की मिशनरी सेल का उद्देश्य कहीं भी ईसाई धर्म का प्रचार करना नहीं था। 

बता दें कि एनडीए का सहयोगी मिजो नेशनल फ्रंट सत्ता में है, लेकिन बीजेपी यहां सरकार का हिस्सा नहीं है। राज्य के इतिहास में 2018 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने चकमा बहुल तुईचवांग सीट पर जीत दर्ज की थी। मिशनरी सेल अब राज्य की 5000 नामी ईसाई मिशनरीज का डेटाबेस तैयार करेगी। इसमें उनके नाम के साथ, पता, फोन नंबर और ई-मेल आईडी होंगी। उधर, इस प्लान ने प्रक्रिया की संभावित सुरक्षा के बारे में एक बहस भी छेड़ दी है। बीजेपी ने इन तमाम चिंताओं को खारिज कर दिया है।मिशनरी सेल के हेड छांगते ने कहा कि मिशनरियों की कॉन्टैक्ट डीटेल्स उनकी सहमति के साथ ही डेटाबेस में होगी। इस सेल का एकमात्र उद्देश्य जरूरतमंद लोगों की मदद करना है।