बिहार के गोपालगंज जिले में ऑर्केस्ट्रा में काम करने वाली एक नाबालिग लडक़ी के साथ एक युवक ने दुष्कर्म किया। पुलिस ने शुरू में इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज करने से इनकार कर दिया। जिसके बाद पीडि़ता ने जिला एसपी आनंद कुमार के निर्देश पर महिला थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी। घटना मोहम्मदपुर थाना क्षेत्र के जोधन मोड़ में उस समय हुई जब शनिवार की रात एक कार्यक्रम में दीपू कुमार नाम के शख्स ने तीन डांसरों को परफॉर्म करने के लिए बुलाया था।

कार्यक्रम समाप्त होने के बाद आयोजक दीपू ने तीनों लड़कियों को एक मोटरसाइकिल पर एक युवक के साथ अपने अपने घर जाने को कहा। लडक़ी ने शुरू में उस युवक के साथ जाने से मना कर दिया लेकिन दीपू ने उनपर दबाव डाला तो वे मान गई। महिला थाने के एक अधिकारी ने बताया कि पीडि़ता के बयान के अनुसार, तीनों लड़कियों के बाइक पर चढऩे के बाद, युवक ने एक लडक़ी को बगल के गाँव में उसके घर छोड़ दिया और दो अन्य लड़कियों के घर की ओर चला गया। कुछ दूर पहुँचने के बाद, आरोपी ने उन्हें मोटरसाइकिल से उतरने को कहा, बाइक रुकी और वे दोनों लड़कियां नीचे उतरीं तो युवक उन्हें बंदूक की नोक पर पास के खेत में ले गया।

उसने कहा कि आरोपी ने एक लडक़ी के साथ बलात्कार करने की कोशिश की लेकिन उसने बीमारी का बहाना किया। फिर उसने दूसरी लडक़ी के साथ बलात्कार किया। आरोपी ने उसे घटना के बारे में किसी को बताने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी। आरोपी ने फिर दोनों लड़कियों को उनके घरों में छोड़ दिया। पीडि़ता ने उसी रात संबंधित मोहम्मदपुर थाने का दरवाजा खटखटाया, लेकिन पुलिस कर्मियों ने प्राथमिकी दर्ज करने से इनकार कर दिया। उन्होंने खुद मेडिकल चेकअप के लिए सदर अस्पताल जाने को कहा। रात भर पीडि़ता सदर अस्पताल में घूमती रही।

अस्पताल के डॉक्टरों ने जब घटना की जानकारी जिला एसपी आनंद कुमार को दी तो उन्होंने मामले का संज्ञान लिया और महिला थाने को प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया। एसपी आनंद कुमार ने कहा, ‘‘इस मामले में जांच चल रही है। हम जल्द ही आरोपी और कार्यक्रम के आयोजक को गिरफ्तार करेंगे। लड़कियों को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की जिम्मेदारी आयोजक की थी, जो उसने पूरी नहीं की।’’