सेना के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए जर्मनी से ऑक्सीजन संयंत्र आयात किये जायेंगे। रक्षा मंत्रालय ने आज एक वक्तव्य जारी कर कहा कि सशस्त्र बल चिकित्सा सेवा के अस्पतालों के लिए 23 चलित मोबाइल आक्सीजन संयंत्र और कंटेनर जर्मनी से आयात किये जायेंगे। 

ये हवाई मार्ग से लाये जायेंगे और सेना के विभिन्न अस्पतालों में रखें जायेंगे। इनमें से प्रत्येक संयंत्र की क्षमता प्रति मिनट 40 लीटर आक्सीजन उत्पादन की है और एक घंटे में ये 2400 लीटर आक्सीजन उत्पादन कर सकते हैं। इस दर से ये 20 से 25 मरीजों को दिन रात आक्सजीन दे सकते हैं। 

इनकी सबसे बडी खासितयत ये है कि ये संयंत्र पोर्टेबल हैं यानी इन्हें कहीं भी आसानी से ले जाया जा सकता है। ये संयंत्र एक सप्ताह में आ जाने की संभावना है। एक अन्य महत्वपूर्ण फैसले में रक्षा मंत्रालय ने सशस्त्र बलों के इन अस्पतालों में शार्ट सर्विस कमीशन के सेवानिवृत होने वाले डाक्टरों की सेवा का इस वर्ष 31 दिसम्बर तक विस्तार कर दिया है। इस तरह से इन अस्पतालों को 238 डाक्टर मिल जायेंगे।