कोरोना वायरस का खौफ अब धार्मिक स्थलों पर भी दिखने लगा है। राजस्थान में वायरस के बढ़ते संक्रमण के देखते हुए जन-जन की आस्था के केन्द्र मेहंदीपुर बालाजी के दर्शन मंगलवार से अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिए है। श्रद्धालुओं को दर्शन बंद होने की सूचना नहीं होने मंगलवार सुबह हजारों की तादाद में यात्री सुबह से ही बालाजी महाराज के दर्शनों के लिए लाइन में लगना शुरू हो गए। 

दर्शनार्थी निराश ना लौटे ऐसे में यात्रियों के भारी भीड़ के चलते मंगला आरती के बाद कुछ देर के लिए मंदिर के पट दर्शनों के लिए खोल दिए,। इसके बाद मंदिर प्रशासन ने दोपहर बाद दर्शनों के लिए मंदिर पूरी तरह बंद करने की सूचना प्रसारित कर दी। इससे पूर्व बालाजी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत किशोरपुरी महाराज की अध्यक्षता में ट्रस्ट की बैठक में हुई जिसमें दर्शनों के लिए मंदिर के पट बंद करने का निर्णय लिया गया। 

जानकारी के अनुसार सोमवार शाम को लाउड स्पीकर से दर्शनों के लिए मंदिर के पट बंद रहने की सूचना दे दी थी। उद्घोषणा सुनने के बाद श्रद्धालु निराश हो गए, लेकिन फिर भी देर रात से दर्शनों के लिए कतारों में लगना शुरू हो गए। सुबह होते होते लम्बी कतारें लग गई, जिसके चलते दर्शनों के लिए मंदिर के पट खोलने पड़े।

उल्लेखनीय है कि मेहंदीपुर बालाजी मंदिर की ख्याति पूरे देश में है और यहां प्रतिदिन देशभर से हजारों की तादाद में श्रद्धालु दर्शनों के लिए आते हैं, जहां शनिवार, रविवार व मंगलवार को दर्शनार्थियों की भारी भीड़ उमड़ती है। लेकिन कोरोना वायरस के दिनोंदिन बढ़ते संक्रमण के चलते मंदिर को बंद करने का निर्णय लिया गया है। जानकारी के अनुसार दर्शनों के लिए मंदिर 31 मार्च तक बंद रखा जाएगा। इसके बाद कोरोना वायरस के हालातों पर चर्चा करते हुए मंदिर खोलने का निर्णय लिया जाएगा।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360