दक्षिण गारो हिल्स जिले का मुख्यालय बाघमारा और मेघालय से लगे अन्य इलाके गुरुवार रात से हो रही भारी बारिश के कारण बाढ़ की चपेट में हैं।

जिला पुलिस प्रमुख अब्राहम टी. संगमा ने आईएएनएस को बताया कि यद्यपि अभी तक किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है, लेकिन कई लोग बाढ़ के कारण विस्थापित हुए हैं।

संगमा ने कहा, 'सीमा सुरक्षा बल की सहायता से एक पुलिस टीम ने आज सुबह अपने घरों में बाढ़ के पानी में फंसे कई लोगों को बचाया है।' 

उन्होंने कहा कि बाघमारा में विस्थापितों को राहत शिविर में रखा गया है। संगमा ने कहा कि कारुकोल, दिमापारा और गसुआपारा भी बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।

उन्होंने कहा कि जमीन धंसने के कारण बाघमारा पुलिस थाना क्षतिग्रस्त हो गया है। पश्चिम गारो हिल्स जिले के दालू ब्लॉक के गांवों में भी बाढ़ की खबर है।

हालात की जानकारी लेने के लिए सरकारी अधिकारी दालू रवाना हुए हैं। लगातार बारिश के कारण पश्चिम खासी हिल्स के विभिन्न हिस्सों में बाढ़ और भूस्खलन की खबरें हैं।

री-भोई जिले में उमियाम जलाशय में पानी का स्तर खतरे के निशान के करीब पहुंच गया है और बांध के बाढग़ेट को एहतियात के तौर पर खोल दिया गया है।

मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने जिला प्रशासन को सभी आवश्यक कदम उटाने के निर्देश दिए हैं।