एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि मेघालय देश में हेरोइन के वितरण के केंद्र बिंदु के तौर पर उभर रहा है। ईस्ट खासी हिल्स के पुलिस अधीक्षक डेविस मारक ने बताया कि शिलांग वितरण केंद्र के रूप में उभर रहा है। इसमें कुछ आतंकी पृष्ठभूमि या उनके द्वारा समर्थित लोग लिप्त है जो मादक पदार्थ तस्करी के कारोबार से अपनी आपराधिक गतिविधियों के लिए कोष एकत्र करते हैं। 

वह यहां कल ‘अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ के दुरुपयोग एवं तस्करी निरोध दिवस’ के मौके पर एक समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मादक पदार्थ लेने वालों की, मुख्य रूप से युवाओं की बढ़ती संख्या कुछ क्षेत्रों में छोटे अपराधों के लिए जिम्मेदार है।  ये अपनी लत पूरा करने के लिए ऐसे अपराध करते हैं। 

कम आय वर्ग के परिवारों से आने वाले ऐसे अपराधियों पर चिंता जाहिर करते हुए पुलिस अधिकारी ने कहा कि युवाओं पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है और लोगों को पुलिस के साथ मिलकर इसके लिए काम करना चाहिए।