सड़क हादसों (road accidents) के मामलों में एक बड़ा कारण है गाड़ी चलाते समय चालक को झपकी आना। इस परेशानी का तोड़ निकाला गया है। उत्तर प्रदेश के मेरठ के एक युवक (meerut iti student) ने ऐसा चश्मा बनाया है, जिसे लगाने से एक्सीडेंट (spectacles to stop road accidents) होने से बचाव होगा।

सचिन कुमार (Sachina Kumar) मेरठ में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) (IIT) के छात्र हैं। सचिन ने बताया कि ज्यादातर एक्सीडेंट वाहन चालक (road accidents) की झपकी या नींद लगने की वजह से होते हैं। इसलिए मैंने ऐसा खास चश्मा बनाया है जो ड्राइवर को नींद आने की हालत में कान के पास अलॉर्म बजेगा जिससे चालक की नींद खुल जाएगी और हादसा होने से बच जाएगा।

सचिन के अनुसार इस खास चश्मे (spectacles to stop road accidents) को बनाने के लिए उसमें नैनो डिवाइस, एडवांस माइक्रो कंट्रोलर, इंफ्रा रे सेंसर, एक छोटा बजर और बैट्री का इस्तेमाल किया गया है। जिसके कारण तीन सेकेंड के लिए अगर चालक को वाहन चलाते वक्त झपकी आती है तो चश्मे में लगा सेंसर एक्टिव हो जाता है। फिर चश्मे में लगा बजर कान के पास बजने लगता है। इसके बाद ड्राइवर की नींद टूट जाती है।