इस समय क्रिकेट जगत में पाकिस्तान के हसन अली बहुत चर्चा में है। उन्होंने मैथ्यू वेड का कैच छोड़ दिया, जिसे पाकिस्तान के खिलाफ टी20 विश्व कप सेमीफाइनल का नतीजा ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में करने के लिए अहम माना गया है। इससे फायदा उठाने वाले खिलाड़ी ने इससे इनकार किया और कहा कि अगर यह कैच लपक भी लिया गया होता तो भी उनकी टीम जीत जाती।

T-20 World Cup में ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे रोमांचक सेमीफाइनल में पाकिस्तान पर पांच विकेट से जीत दर्ज की, जिसमें एरॉन फिंच की टीम ने 177 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया। सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (30 गेंदों में 49 रन) के अलावा वेड 17 गेंदों में 41 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया के नायक रहे, जिन्होंने अली द्वारा कैच छोड़े जाने के बाद 19वें ओवर में लगातार तीन छक्के जड़े।

वेड ने मैच के बाद कहा कि यह कहना मुश्किल होगा, मुझे नहीं लगता कि कैच छोड़ना टर्निंग प्वाइंट था। मुझे लगता है हमें उस समय 12 या 14 रनों की जरूरत थी। मुझे लगता है कि मैच उस समय हमारे पक्ष में होना शुरू हो गया था।

हसन ने कहा कि अगर मैं तब आउट हो जाता तो निश्चित रूप से हमें नहीं पता कि क्या होता, लेकिन मुझे पूरा भरोसा था कि पैट (कमिंस) क्रीज पर उतरकर मार्कस स्टोइनिस के साथ टीम को जीत तक पहुंचा देते।