नए पुलिस कानून और बिहार की खराब कानून व्यवस्था, शिक्षा रोजगार, स्वास्थ्य को लेकर विधानसभा चुनाव का घेराव करने सड़क पर उतरे राजद कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। विरोध में राजद कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पत्थर बरसाये। इसमें दोनों तरफ से दर्जनों लोगों को चोटें आई हैं। राजधानी की सड़कों पर भारी उपद्रव पत्थऱबाजी और लाठीचार्ज के दौरान तेजस्वी और तेजप्रताप यादव पिकअप वैन पर हेलमेट लगाकर चल रहे थे। भारी हंगामे के बीच पुलिस ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव,तेजप्रताप समेत कई विधायकों को हिरासत में ले लिया है। पटना पुलिस प्रदर्शन कर रहे सभी नेताओं को गाड़ी में बिठाकर थाना ला रही है।

मंगलवार को हजारों की संख्या में पार्टी कार्यकर्ता गांधी मैदान से विधानसभा के लिए कूच किए। रोकने के लिए पटना पुलिस ने पर्याप्त व्यवस्था की थी और सभी को डाक बंगला चौराहे पर ही रोक दिया गया. इस दौरान तेजस्वी यादव सहित तमाम पार्टी नेता इस प्रदर्शन में शामिल थे. पार्टी कार्यकर्ता सरकार खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। वहीं बैरिकेडिंग तोड़कर आगे बढ़ने की कोशिश भी की गई.उन्हें रोकने के लिए पुलिस की तरफ से की गई वाटर कैनन पानी की बारिश की गई. भीड़ को तितर-बितर करने की कोशिश की गई लेकिन यह कोशिश भी पूरी तरह से कामयाब साबित नहीं हुई .सारे कार्यकर्ता फिर से एकजुट होकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे और आगे बढ़ने लगे। इसके बाद डाकबंगला चौराहे पर पुलिस ने रोक दिया और विधानसभा घेराव करने जा रहे लोगों पर खूब लाठियां बरसाई।

वाटर कैनन से पानी की बारिश के बाद जब राजद कार्यकर्ता नहीं मानें तो अंत में पुलिस जवानों का लाठी चार्ज का आदेश दिया गया। जिसके बाद पुलिस जवान एक्शन में आ गए और कार्यकर्ताओं की लाठियों से पिटाई शुरू कर दी गई। जिसमें कई कार्यकर्ता बुरी तरह से चोटिल हो गए हैं। वही कई लोग पुलिस की लाठी से बचने के लिए इधर उधर भागते नजर आये।