प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दुसरे कार्याकाल में कांग्रेसी खेमे में हडकंप मचा हुआ है। मोरीगांव विधानसभा क्षेत्र के बारहपुजिया गांव पंचायत में आयोजित बूथ स्तरीय एक दलीय सांगठनिक सभा में विधायक रमाकांत देउरी ने प्रधानमंत्री की जमकर प्रशंसा की। उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल की भी भरपूर प्रशंसा करते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा वर्तमान में लागू की गई सभी योजनाओं को लेकर जनता भाजपा तथा गठबंधन दल के अलावा किसी पर विश्वास नहीं करती है।


विधायक देउरी ने सभा में एनआरसी पर वक्तव्य रखते हुए कहा कि वर्ष 1951 को आधार वर्ष के तौर पर ग्रहण नहीं करना असमिया खिलंजिया लोगों के लिए समस्या खड़ी हो सकती है। मोरीगांव भाजपा के उपाध्यक्ष सुरेन दास, सचिव प्रवीण मेधी, जातीय ऐक्य मंच के पूर्व नेता अजित डेका, खगेन बरदलै, कपिली मंडल भाजपा के अध्यक्ष युदानाथ, अंकुर ज्योति बोरा की उपस्थिति में आयोजित सभा मे मोरिगांव तिवा स्वायत्त परिषद के 20 नं.बारहपुजिया परिषदीय क्षेत्र की कांग्रेस सदस्य रीना पातर और बारहरपुजिया महिला कांग्रेस की सचिव रानू बरदलै विधिवत रूप से भाजपा का दामन थामा।
साथ ही मनिपुरटुप पंचायत में आयोजित बूथ समिति की सभा में उक्त पंचायत की नवनिर्वाचित आंचलिक पंचायत सदस्य हिमाद्री कोंवर और काफी संख्या में कांग्रेसी नेता-कर्मियो ने भाजपा का दामन थाम लिया। विधायक देउरी ने बारहपुजिया पंचायत के साथ ही साराईवाही, बरभागिया पंचायत में भी कई दलीय सांगठनिक सभा में हिस्सा लिया।