विवादों से घिरे मणिपुर विश्वविद्यालय परिसर में छात्रों आैर सुरक्षा बलों के बीच झड़प हो गर्इ। झड़प इतनी बढ़ गर्इ कि पुलिस को आसू गैस के गोले का इस्तेमाल करना पड़ा। पुलिस सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी।

दरअसल, छात्र परिसर में उन सभी 15 शिक्षकों और छात्रों को बिना शर्त रिहा करने की मांग करते हुए प्रदर्शन कर रहे थे जिन्हें सितंबर में गिरफ्तार किया गया था। कार्यवाहक कुलपति प्रोफेसर के युगींद्रो द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी के बाद सितंबर में इन शिक्षकों और छात्रों को गिरफ्तार कर लिया गया था।


झड़प तब हुई जब प्रदर्शनकारी छात्रों ने कुलपति से मुलाकात करने की मांग की और पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका। मणिपुर विश्वविद्यालय शिक्षक संघ ने छात्रों पर पुलिस की कार्रवाई की घोर निंदा की है।