मणिपुर में भारत-म्यांमार अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास चुराचांदपुर जिले में एक आर्मी कैंप पर अज्ञात उग्रवादियों ने बुधवार को हमला किया। जानकारी के अनुसार, उग्रवादियों ने सेना के शिविर पर पहले बमों से हमला किया, फिर मशीन गन से अंधाधुंध गोलियां चलाईं। हालांकि, इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है। सुरक्षा बलों ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया।
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि उग्रवादियों ने सुबह करीब सवा पांच बजे सिंग्नगत पुलिस थाना अंतर्गत तीगोतांग गांव के पास 6 सिखली के ‘बी’ कंपनी के शिविर को निशाना बनाया। वहीं, सुरक्षा बलों ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया। सूत्रों ने बताया कि सैनिकों ने मोर्टार और मशीन गन का उपयोग कर उग्रवादियों को जवाब देना शुरू किया, जिसके बाद वे वापस जंगल की ओर भाग गए।
सूत्रों ने यह जानकारी भी दी कि उग्रवादियों ने अंतरराष्ट्रीय सीमा को पार हमला किया था। हमलावरों की तलाश में सेना लगातार ऑपरेशन चला रही है। बता दें कि इस क्षेत्र में उत्तर-पूर्व कई उग्रवादी समूहों ने स्वतंत्रता दिवस समारोह के बहिष्कार का आह्वान किया था, लेकिन यहां स्वतंत्रता दिवस काफी जोश के साथ मनाया गया जिसके बाद यह हमला हुआ।