मणिपुर सरकार और कांग्रेस ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती को राज्य भर में  सद्भावना दिवस के रूप में मनाया। गांधी के जयंती के मौके राज्य में आयोजित एक समारोह में मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने कहा कि गांधी ने जाति, धर्म, भाषा को दरकिनार करते हुए देश में एकता और समरसता को बढ़ाने का काम किया। उप मुख्यमंत्री वाई जॉयकुमार ने भी कहा कि गांधी का मानना था कि अलग-अलग समुदायों और धर्मों के बीच बिना समरसता के देश के आगे नहीं बढ़ सकता है।


गांधी ने देश में हमेशा अनेकता में एकता के नारे को आगे को बढ़ाया।  सिंह ने इस दौरान राज्य में नशीले पदार्थों के खिलाफ लड़ाई को और मजबूत करने पर जोर देते हुए कहा कि नशीले पदार्थों सेवन पूरी पीढिय़ों को खत्म कर सकता है। समारोह में बाद  सिंह ने सभी लोगों को सद्भावना की शपथ दिलाई। समारोह में विधायकों, वरिष्ठ पुलिस और सिविल अधिकारी तथा सरकारी कर्मचारियों ने भी समारोह में भाग लिया।


मणिपुर कांग्रेस ने भी इस दौरान पार्टी मुख्यालय पर एक समारोह का आयोजन किया जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री ओ, इबोबी, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गईखंगम तथा अन्य लोग शामिल हुए। कांग्रेस ने इस मौके रक्तदान अभियान भी चलाया गया जिसमें भारी संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं ने रक्तदान किया। गईखंगम ने कहा कि पार्टी इस अभियान से जरूरतमंद लोगों की मदद करना चाहती है।