पर्यावरण संरक्षण के लिए एक नई पहल में कौशाम्बी जिले के एक गांव के निवासियों ने प्रत्येक नवविवाहित जोड़े के लिए एक पेड़ लगाना अनिवार्य कर दिया है।

मूरतगंज विकासखंड के ग्राम अमनी लोकीपुर के निवासियों ने संकल्प लिया है कि गांव के प्रत्येक नवविवाहित जोड़े को एक फलदार पेड़ का पौधा लगाकर ही अपने घर में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी । साथ ही इसे अपने पहले बच्चे के रूप में पालने का संकल्प लेना होगा।

गांव के पूर्व ग्राम प्रधान स्वतंत्र सिंह ने कहा, पहल पहले जोड़े के साथ शुरू हो चुकी है, जिन्होंने हाल में लिए फैसले के बाद शादी कर ली है और एक पौधा लगाया है । उन्होंने अपने पहले बच्चे की तरह इसकी देखभाल करने का संकल्प भी लिया है। सालों से हमारे जैसे-जैसे खेती और घर बनाने खाली जमीन का उपयोग होता रहा है, वैसे-वैसे हरे-भरे गाव ने अपना अधिकांश हरा-भरा आवरण खो दिया है। हालांकि, अब हम सभी ने इसे एक बार फिर से हरा-भरा बनाने का संकल्प लिया है। पहला जोड़ा 26 वर्षीय किसान अतुल और उनकी 23 वर्षीय नवविवाहित पत्नी संध्या हैं, जिन्होंने गांव में पीपल के पेड़ का पहला पौधा लगाकर इस पहल की शुरूआत कर दी है।