जिला यूथ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष (बाजेंगडोबा)सिजॉन एन.संगमा पर गंभीर आरोप लगे हैं। आरोप है कि उसने अपनी लिव इन पार्टनर से शादी का वादा कर 2 लाख 50 हजार रुपए ठग लिए। पीडि़ता अब प्रेग्नेंट है। पीडि़ता पिछले 6 साल से संगमा के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रही थी। दोनों अडोकग्रे के एक गांव में साथ साथ रह रहे थे, जहां महिला टीचर है। जब पीडि़ता का परिवार शादी की तारीख तय करने गया तो वे यह देखकर हैरान रह गए कि सिजॉन उनकी बेटी से शादी नहीं करना चाहता। बताया जा रहा है कि पीडि़ता के परिजनों के सिजॉन के घर जाने के दो दिन बाद उसने एक अन्य लड़की से सगाई कर ली। जब पीडि़ता के पास कोई विकल्प नहीं बचा तो उसने परिवार की मदद से 30 अगस्त को रेसुबेलपाड़ा में एफआईआर दर्ज कराई। एफआईआर में आरोपी पर धोखाधड़ी और पीडि़ता के अकाउंट से 2.5 लाख रुपए निकालने का आरोप लगाया गया।

पीडि़ता ने कहा, हम 6 साल से लिव इन रिलेशनशिप में थे। हम पति और पत्नी के रूप में रह रहे थे। उस पर विश्वास नहीं करने की कोई वजह नहीं थी। हालांकि उसने हालात का फायदा उठाया और मेरे एटीएम कार्ड से पैसे निकाल लिए। उसने 6 साल में करीब 2.5 लाख रुपए निकाले। अब मैं 4 माह की गर्भवती हूं। पीडि़ता कथित रूप से आरोपी के साथ गांव में रह रही थी। कुटुम्ब के लोग जब भी दोनों की शादी कराने की कोशिश करते तो सिजॉन हमेशा भाग जाता था। सिजॉन ने कथित रूप से बाइक खरीदने के लिए पीडि़ता से पैसे लिए थे। सिजॉन ने लिव इन पार्टनर से कहा कि वह उसे हर रोज रेसुबेलपाड़ा स्थित उसके घर से अडोकग्रे स्थित स्कूल छोड़ेगा और वापस घर ले जाएगा। पीडि़ता के मुताबिक उसने ऐसा कभी नहीं किया। पीडि़ता ने कहा, वह पैसों के साथ कई अन्य लड़कियों क साथ देखा गया था। ये पैसे उसने मुझसे लिए थे।
मुझे यह तब पता चला जब उसने मुझसे शादी से इनकार कर दिया और किसी अन्य से सगाई कर ली। यह धोखा देने का केस है और उसके खिलाफ कानून के मुताबिक कार्रवाई होनी चाहिए। उसने मेरी जिंदगी बर्बाद कर दी। मैंने मेहनत से जो पैसे कमाए थे, वह सारे पैसे ले गया। परिवार ने मामले में पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं किए जाने पर नाखुशी जताई। अभी तक मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। नॉर्थ गरो हिल्स के पुलिस सूत्रों ने एफआईआर दर्ज होने की पुष्टि करते हुए कहा कि सिजॉन की तलाश जारी है। खबरों के मुताबिक उसने अग्रिम जमानत मांगी थी लेकिन उसे नहीं मिली। उच्च पदस्थ पुलिस सूत्र ने बताया कि हमने उचित धाराओं के तहत आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है। उसे पकडऩे के लिए उसके घर गए लेकिन वह भाग गया। हमें जल्द ही ब्रेकथ्रू मिलने की उम्मीद है।