अब एक ऐसा मामला सामने आया है जिसके तहत एक शख्स ने अपने कुत्ते के लिए अपनी शादी तोड़ ली। इस का कहना है कि उसकी गर्लफ्रेंड की वजह से उसका डॉगी मरते-मरते बचा है। जिसके बाद उसने गर्लफ्रेंड को अपना फैसला सुना दिया और सगाई हो जाने के बावजूद शादी करने से मना कर दिया।

यह भी पढ़ें : सिक्किम को लेकर पेमा खांडू का बड़ा ऐलान, इन राज्यों की तिकड़ी करेगी कमाल

खबर है कि 28 साल के इस शख्स ने अपनी 27 साल की पार्टनर से दूरी बना ली। दरअसल, लड़की की पार्टी के दौरान शख्स के 7 साल के कुत्ते ने बहुत ज्यादा चॉकलेट खा लिया और दारू पी ली थी। इससे वह बीमार हो गया। लड़की की लापरवाही की वजह से शख्स ने अपना 4 साल पुराना रिलेशनशिप तोड़ लिया।

उसके इस फैसले पर उसके परिवारवालों और लड़की के परिवार वालों ने एतराज जताया था। शख्स ने रेडिट पर बताया कि शनिवार को मंगेतर अपने घर पर बैचलर पार्टी कर रही थी। मैं अपने घर पर अपने पैरेंट्स के साथ। मैंने अपना कुत्ता उसके पास छोड़ दिया क्योंकि उसे कुत्ते के साथ टाइम बिताना अच्छा लगता था।

इस शख्स ने आगे कहा कि रविवार की सुबह 5 बजे मुझे फोन आया कि कुत्ते को कोई प्रॉब्लम है। मैंने उससे कहा कि एक टैक्सी ले लो और इमरजेंसी वेट क्लिनिक चले जाओ। शख्स ने घटना के बारे में बताया- मंगेतर के दो दोस्त भी वहीं थे। उन्होंने बताया कि मेरा कुत्ता जिंदा है।

लेकिन इसके बाद डॉक्टर ने बताया कि कुत्ते ने बहुत ज्यादा शराब पी रखी है और उसने बहुत ज्यादा चॉकलेट खाया है। शख्स बहुत गुस्से में था क्योंकि लड़की ने उसकी बातों को नहीं माना था। उसने लड़की को साफ-साफ कहा था कि वह कुत्ते को पार्टी से दूर रखे।

यह भी पढ़ें : मणिपुर में समलैंगिक युवक की ऑनर किलिंग पर बनी फिल्म, इसी साल होगी रिलीज

आगे उसने कहा- जब हमलोग घर पहुंचे तो मैंने अपनी मंगेतर को अपना सामान पैक करके मेरे घर और मेरी जिंदगी से चले जाने को कहा। मैंने उसे अपने मेहमानों को शादी टूटने के बारे में बताने को कहा। वह शॉक्ड रह गई। लेकिन उसने अपना सामान उठाया और चली गई।

शख्स को उसके परिवार और लड़की के परिवार वालों ने काफी समझाने की कोशिश की लेकिन वह शादी को राजी नहीं हुआ। शख्स के पोस्ट पर लोग उसके समर्थन में दिखे। लोगों ने लड़की की गलती को माना और लड़के को सही ठहराया।

बाद में लोगों के कॉमेंट के आधार शख्स ने पोस्ट में आगे लिखा- मुझे अब समझ आया कि यह सबकुछ कुत्ते के लिए था ही नहीं। वह गैर-जिम्मेदार थी। मैं यह समझ चुका हूं कि मैं ऐसे किसी शख्स के साथ जीवन नहीं बिता सकता हूं जिसे इंसानी (या किसी जानवर के) जान की परवाह नहीं है।