असम पुलिस ने बुधवार को 23 साल के एक शख्स को नवविवाहित पत्नी से रेप की योजना बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। उसे करीमजंग कोर्ट में पेश किया गया,जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। घटना करीमजंग जिले के एक गांव की है, जो करीमजंग कस्बे से 70 किलोमीटर दूर स्थित है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि मंगलवार रात पीडि़ता और उसका पति डिनर करने के बाद सोने के लिए चले गए। रात को करीब 12.15 बजे कुछ लड़कों ने पीडि़ता के पति को आवाज लगानी शुरू की। पति ने दरवाजा खोल दिया। इसके बाद 5 से 6 लड़के घर में घुस गए। लड़कों ने महिला को खींचा और कपड़े से उसका मुंह बांध दिया। इसके बाद उसे बिस्तर से उठाया और जबरन घर से बाहर ले गए। 18 वर्षीय पीडि़ता के मुताबिक लड़के उसे लोंगई नदी के पास ले गए और गैंगरेप किया। पीडि़ता जोर जोर से चिल्ला रही थी लेकिन उसकी आवाज सुनने वाला कोई नहीं थी
क्योंकि उस वक्त भारी बारिश हो रही थी। घटना के वक्त बहुत अंधेरा था इसलिए पीडि़ता आरोपियों को नहीं पहचान सकी। गैंगरेप के बाद आरोपी पीडि़ता को बेहोशी की हालत में छोड़कर भाग गए। जब पीडि़ता को होश आया तो वह उसी गांव में अपने माता पिता के घर पहुंची। पीडि़ता ने आरोप लगाया कि जब उसे लड़के जबरन घर से उठाकर ले गए तब उसका पति घर में ही था। उसने विरोध करने की बजाय लड़कों की मदद की। इससे साफ पता चलता है कि उसी ने ही रेप की योजना बनाई थी। पुलिस ने बुधवार को उसे करीमजंग कोर्ट में पेश किया जहां उसका बयान रिकर्ड किया गया। पीडि़ता को करीमजंग सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया,जहां उसका मेडिकल परीक्षण और इलाज किया गया। दोपहर में उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।
पुलिस ने बताया कि कुछ दिनों में मेडिकल रिपोर्ट आएगी। पीडि़त परिवार के सदस्यों ने कहा कि शादी के बाद से ही उनकी बेटी के पति का बर्ताव बदल गया था। बाजारीचेरा पुलिस थाने के ओसी मनोज राजबोंग्सी ने बताया कि पीडि़ता ने बुधवार को एफआईआर दर्ज कराई। एफआईआर में पति पर रेप की प्लानिंग का आरोप लगाया गया था। एफआईआर दर्ज करने के बाद पीडि़ता के पति को गिरफ्तार कर लिया गया आईपीसी की धारा 376 और 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। राजबोंग्सी ने कहा कि मामले की गहराई से जांच की जा रही है। करीमजंग के पुलिस अधीक्षक गौरव उपाध्याय ने कहा कि मामला थोड़ा कॉम्प्लेक्स है क्योंकि पत्नी का बयान भरोसेमद नहीं है। इस मामले में कुछ और एंगल भी हो सकता है। जांच जारी है। पिक्चर जल्द ही क्लियर होगी।