पश्चिम बंगाल के नंदीग्राम में शुभेंदु अधिकारी के हाथों हार मिलने के बाद TMC चुनाव आयोग पहुंच गई है। टीएमसी ने चुनाव आयोग से नंदीग्राम में फिर से मतगणना कराने की मांग की है। टीएमसी की ओर से 3 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल कोलकाता में चुनाव आयोग कार्यालाय में राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से मुलाकात करने पहुंचा है।

TMC ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर कहा है कि नंदीग्राम में वोटों की गिनती में कोई गड़बड़ी हुई है। इसके साथ-साथ TMC ने नंदीग्राम में वोट काउंटिंग के दौरान मिसमैनेजमेंट और टेम्परिंग का भी आरोप लगाया है। 

TMC ने चुनाव आयोग को लिखे पत्र में कहा है कि असत्य और अमान्य वोटों की गिनती बीजेपी की तरह से कर दी गई है। इसके अलावा कुछ मान्य वोट जो कि TMC को पड़े थे उनको गलत तरीके से रद्द कर दिया गया है। टीएमसी ने कहा कि नंदीग्राम में पोस्टल बैलेट की गिनती गलत तरीके से हुई है।

बता दें कि बंगाल में विधानसभा चुनाव का सबसे कड़ा और दिलचस्प मुकाबला नंदीग्राम में हुआ। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को कभी उनके दाएं हाथ रहे शुभेंदु अधिकारी ने नजदीकी मुकाबले में हरा दिया है। नंदीग्राम के नतीजे के बाद जहां ममता बनर्जी ने गड़बड़ी का आरोप लगाकर कोर्ट जाने की बात कही है तो शुभेंदु अधिकारी ने जनता का आभार जताकर सेवा की प्रतिबद्धता जताई है।

शुभेंदु अधिकारी ने कहा, ''प्यार, विश्वास, आशीर्वाद, समर्थन और मुझे अपना प्रतिनिधि और विधायक चुनने के लिए नंदीग्राम की महान जनता को बहुत धन्यवाद। उनकी (जनता) सेवा और कल्याण के लिए काम करना मेरी कभी ना खत्म होने वाली प्रतिबद्धता है। मैं वास्तव में आभारी हूं। '' शुभेंदु अधिकारी ने इस ट्वीट के साथ इस सीट की मतगणना का परिणाम भी साझा किया है। इसके मुताबिक शुभेंदु ने ममता बनर्जी को 1736 वोटों से हराया है।