पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी को बाहरी लोगों की पार्टी’ करार दिया है और कहा है कि बंगाल के लोग राज्य को चलायेंगे न कि बाहरी लोग। बनर्जी ने शहीद दिवस के मौके पर एक वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए यह बात कही। 

उन्होंने कहा, पश्चिम बंगाल में किसी भी बाहरी व्यक्ति का शासन नहीं होगा। राज्य में बंगाली लोगों का शासन होगा। तृणमूल प्रमुख ने राजस्थान में ‘राजनीतिक उथल-पुथल’ के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराते हुए उन पर सीधा हमला बोला और पूछा, ‘‘गुजरात को क्यों सभी राज्यों पर शासन करना चाहिए।’’  

बनर्जी ने कहा कि चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित सभी लोगों को सरकारी सहायता प्रदान की जाएगी। उन्होंने विपक्ष पर उनके खिलाफ दुष्प्रचार करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा, आज ही के दिन वर्ष 1993 में पुलिस की ओर से की गयी फायङ्क्षरग में हमारे 13 कार्यकर्ता शहीद हो गये थे। इस शहादत दिवस के अवसर पर हम राजनीतिक हिंसा के शिकार सभी लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।

 उन्होंने कहा कि शहीदों की याद में 1993 के बाद से हम हर वर्ष वार्षिक रैली का आयोजन करते रहे हैंं लेकिन इस बार कोरोना महामारी को लेकर लागू प्रतिबंधों के कारण शहीद दिवस को दूसरे तरीके से मना रहे हैं। बनर्जी ने कहा, मैं अपने भाइयों एवं बहनों को प्रत्येक बूथ पर संबोधित करूंगी। यदि लोगों ने फिर से हमें अपना आशीर्वाद दिया तो जुलाई 2021 में अब तक का सबसे बड़ा कार्यक्रम आयोजित करूंगी।