नागा शांति वार्ता में सरकार के प्रतिनिधि और मध्यस्थकार आर एन रवि ने मणिपुर में नागा समुदाय के शीर्ष संगठन यूनाइटेड नागा कौंसिल (यूएनसी) के नेताओं से मुलाकात कर उनसे राज्य में अन्य समुदायों के साथ सछ्वाव बनाये रखने की अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करने को कहा।


नागालैंड की राजधानी कोहिमा में आज हुई इस मुलाकात में संगठन के नेताओं को विभिन्न पक्षों के बीच सभी विवादित मुद्दों के समाधान सहित शांति वार्ता की मौजूदा स्थिति से अवगत कराया गया। संगठन के नेताओं की सभी जिज्ञासाओं का भी रवि ने समाधान किया।


उन्होंने नेताओं को राज्य में अन्य समुदायों के नेताओं के साथ सछ्वाव बनाये रखने की उनकी जिम्मेदारी भी याद दिलायी। रवि ने राजनीतिक हितों के चलते मणिपुर में हाल के वर्षों में पर्वतीय और घाटी क्षत्रों के बीच पारंपरिक भाईचारे में कमी आने की घटनाओं पर चिंता व्यक्त की। उन्होंने जोर देकर कहा कि दोनों क्षेत्रों के लोगों के बीच सांप्रदायिक सछ्वाव बनाये रखना जरूरी है।


उन्होंने जोर देकर कहा कि पड़ोसियों सहित सभी पक्षों को विश्वास में लिये बिना नागा मुद्दे का समाधान नहीं किया जा सकता। नागा नेताओं से अपील की गयी कि सभी समुदायों को मिलजुल कर और परस्पर सौहार्द के साथ रहना चाहिए।