मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा में सोमवार को एक बड़ा रेल हादसा होने से बच गया।  पांढुर्णा में तेज रफ्तार जीटी एक्सप्रेस ट्रेन की कपलिंग टूट गई।  इस दौरान ट्रेन दो हिस्से में बंट गई। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे रेलवे अधिकारियों ने ट्रेन को जोड़कर आगे रवाना किया।  वहीं कपलिंग टूटने की दूसरी घटना पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर रेल मंडल के सतना के  समीप घटित हुई, जहां पर सतना से कटनी की ओर आ रही मालगाड़ी दो हिस्सों में बंट गई, जिससे अप लाइन पर यातायात काफी देर तक बाधित रहा। 

दरअसल पांढुर्णा रेलवे स्टेशन से कुछ ही दूरी पर अचानक तेज रफ्तार ट्रेन की कपलिंग टूट गई। इस वजह से ट्रेन दो हिस्सों में बंट गई. गनीमत रही कि हादसे में कोई जनहानि नहीं हुई, लेकिन यात्रियों में काफी दहशत देखी गई।  वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंची रेलवे की टीम ने एक घंटे की मशक्कत के बाद स्थिति पर काबू पा लिया। 

सोमवार सुबह पांढुर्णा से जीटी एक्सप्रेस ट्रेन नागपुर के लिए रवाना हुई थी।  जैसे ही ट्रेन नरखेड़ के पास पहुंची, तो अचानक खंभा नंबर 960/12 के पास चलती ट्रेन की कपलिंग टूट गई, जिससे ट्रेन के पीछे के चार डिब्बे अलग हो गए।  इन चार डिब्बों को छोड़कर ट्रेन करीब 400 मीटर आगे बढ़ गई।  इस दौरान ट्रेन में बैठे सभी यात्री घबरा गए और अफरा तफरी मच गई। 

हादसे की जानकारी जैसे ही रेलवे अधिकारियों को लगी, तो तुरंत नागपुर और आमला के तकनीकी विभाग की टीम मौके पर पहुंची, जिसके बाद करीब एक घंटे तक दूसरी कपलिंग जोडऩे का काम जारी रहा। 

मालगाड़ी की कपलिंग टूटी

कपलिंग टूटने की एक घटना जबलपुर रेल मंडल में घटित हुई, जब सतना से जबलपुर की ओर जा रही मालगाड़ी के डिब्बे उचेहरा रेलवे स्टेशन के पहले पिपरीकला के अलग हुए, बड़ा हादसा टला, रेल विभाग के अधिकारी-कर्मचारी मौके पर पहुंचे।