महाराष्ट्र के मुंबई में 'जन आशीर्वाद यात्रा' निकालना BJP के लिए मुसीबत बनता जा रहा है। यहां कोरोना नियमों को लेकर उद्धव सरकार सख्ती दिखा रही है, जिसकी वजह से बीजेपी की इस यात्रा के आयोजकों के खिलाफ मुंबई में कोविड-19 नियमों के कथित उल्लंघन को लेकर ताबड़तोड़ एफआईआर दर्ज की जा रही हैं। मुंबई पुलिस द्वारा BJP की जन आशीर्वाद यात्रा को लेकर शुक्रवार 19 एफआईआर दर्ज की गई थीं। ये संख्या अब 36 हो गई है।

एक अधिकारी ने बताया था कि विले पार्ले, खेरवाड़ी, माहिम, शिवाजी पार्क, दादर, चेंबूर और गोवंडी थानों में आईपीसी की धारा 188 (लोक सेवक के आदेश की अवहेलना) के साथ ही आपदा प्रबंधन अधिनियम और मुंबई पुलिस अधिनियम के तहत मामले दर्ज किए गए।नवनियुक्त केंद्रीय मंत्री नारायण राणे, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, भाजपा नेता प्रवीण दारेकर और पार्टी के अन्य नेताओं ने रैली में भाग लिया था। बता दें कि नवनियुक्त केंद्रीय मंत्रियों का परिचय कराने के लिए भाजपा की ओर से यह यात्रा आयोजित की गई थी। बता दें कि महाराष्ट्र सरकार का कहना है कि अभी राज्य में दूसरी लहर पूरी तरह से खत्म नहीं हुई है।  गौरतलब है कि महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण से 105 लोगों की मौत हुई और 4,365 नए मामले सामने आए, जबकि वायरल संक्रमण से 6,384 मरीज ठीक हो गए। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। इस प्रकार राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 64,15,935 हो गए, जबकि मरने वालों की संख्या 1,35,672 हो गई। उत्तरी महाराष्ट्र के नंदुरबार जिले में लगातार पांचवें दिन कोविड​​​-19 का कोई मामला नहीं आया।