केंद्रीय मंत्री केजी अल्फोंस का कहना है कि मॉब लिंचिंग और रेप जैसी घटनाओं का विदेशी टूरिस्टों के भारत भ्रमण पर थोड़ा असर पड़ा है, हालांकि उन्होंने कहा कि इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि इस तरह की घटनाओं से दुनिया में भारत की छवि को धक्का लगा है। पर्यटन मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार संभाल रहे केजी अल्फोंस चीन के शहर बिजिंग, वुहान और संघाई के दौरे पर हैं जिससे यहां के लोगों को भारत में घूमने के लिए आकर्षिक किया जा सके। अन्य देशों की तुलना में यहां के पर्यटक भारत घूमने के मकसद से कम आते हैं।

बीफ से पर्यटन पर नहीं पड़ा है काेर्इ असर
बता दें कि मंत्री के चीनी दौरे के दौरान एक पत्रकार ने उनसे पूछा कि क्‍या लिंचिंग की घटनाओं से भारत में पर्यटन पर बुरा असर पड़ा है? इसके जवाब में अल्‍फोंस ने कहा, 'नहीं इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ा है, लेकिन इस प्रकार की घटनाएं देश की छवि के लिए खराब हैं। हम ऐसा नहीं कह सकते कि ऐसी घटनाएं देश की छवि के लिए अच्‍छी हैं।' बीफ बैन से पर्यटन पर बुरा असर पड़ने के सवाल पर अल्‍फोंस ने कहा, 'नहीं ऐसा नहीं है। देखिए हमारे यहां केरल, गोवा और नॉर्थ-ईस्‍ट में बीफ खाया जाता है।

ये सभी राज्‍य बड़े टूरिस्‍ट डेस्टिनेशन हैं। तो लोग वहां जाएंगे जहां उन्‍हें बेहतर लगेगा। मेरा मानना है कि हमें लोगों की भावनाओं का ख्‍याल रखना चाहिए, यह मौलिक बात है।' पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए अल्‍फोंस इस समय चीन दौरे पर हैं। चीन में पर्यटन के लिहाज से भारत के लिए काफी संभावनाएं हैं। पिछले साल करीब 14.4 करोड़ चीनी नागरिक देश के बाहर घूमने गए, लेकिन भारत में सिर्फ 3 लाख चीनी ही आ सके। अल्‍फोंस ने कहा कि भारत का लक्ष्‍य है अगले तीन साल में चीनी पर्यटकों की संख्‍या को करीब डेढ़ करोड़ तक ले जाना।

महिलाओं की सेफ्टी पर सरकार का पूरा फाेकस
मंत्री ने कहा कि पीएम मोदी ने इस तरह की घटनाओं को अपराध करार देते हुए राज्यों से सख्ती से निपटने को कहा है। एक चीनी पत्रकार ने जब मंत्री से पूछा कि भारत में विदेशी महिला टूरिस्ट की सुरक्षा के लिए सरकार ने क्या कदम उठाए हैं। मंत्री ने कहा कि सरकार का पूरा फोकस महिलाओं की सेफ्टी पर है और इसे लेकर कई तरह के कदम उठाए गए हैं। हाल ही में कुछ मीडिया रिपोर्ट में भारत को महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देश बताया गया था। मंत्री ने कहा कि इस तरह की मीडिया रिपोर्ट जो पूर्वाग्रह से ग्रसित होती हैं उनसे निपटना बड़ी चुनौती हैै।

बढ़ रही है देश में मॉब लिंचिग की घटनाएं
गौरतलब है कि देश में मॉब लिंचिग की घटनाएं बढ़ी हैं। भीड़ द्वारा पीट-पीट हत्या के कई मामले सामने आए हैं। कई राज्यों में जहां बीजेपी की सरकारें हैं वहां इस तरह की घटनाएं बार-बार हो रही हैं। हाल ही में वॉट्सऐप पर फैली अफवाहों की वजह से भीड़ ने कई लोगों को निशाना बनाया। भीड़ के हमले में कई लोगों को अपनी जान तक गंवानी पड़ी है।