नई दिल्ली. नया साल (New Year) शुरू होने में अब महज कुछ ही घंटे बचे हैं. देश में हर महीने की पहली तारीख को कुछ न कुछ बदलाव या नए नियम लागू होते हैं. ऐसे में 1 जनवरी 2022 (Big Changes From 1st January 2022) से भी कई बदलाव या नए नियम लागू होंगे. खासकर आम उपभोक्ता (Consumers) के हित से जुड़े कई बदलाव होने जा रहे हैं. नए साल की पहली तारीख को रसोई गैस में काम में आने वाली एलपीजी सिलेंडर के दाम (LPG Cylinder Price) पर बड़ा फैसला होगा.

एलपीजी सिलेंडर के दाम को लेकर हर महीने के पहली तारीख को समीक्षा बैठक होती है. ऐसे में इस बार की बैठक में एलपीजी सिलेंडर के दाम में बढ़ोतरी की संभावना ज्यादा है. ऐसा इसलिए कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें थोड़ी बढ़ी है. हालांकि, ये भी अनुमान लगाए जा रहे हैं कि अगले साल उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल की तरह गैस भी सस्ता करेगी.

नए साल की पहली तारीख कई मायने में आपके लिए खास होगा. नए साल में आपके घर की रसोई से लेकर आपकी जेब तक का बजट बन-बिगाड़ सकता है. इन बदलावों से आम लोगों के साथ-साथ खास लोगों पर असर पडे़गा. नए साल में खासकर एलपीजी की कीमतों को लेकर बड़ा फैसला होगा.

हालांकि, दिवाली से पहले ही एलपीजी गैस के दाम में बढ़ोतरी की गई थी. एलपीजी गैस सिलेंडर के दाम में 266 रुपये की भारी बढ़ोतरी की गई थी, हालांकि राहत की बात ये थी कि यह बढ़ोतरी कमर्शियल सिलेंडर में ही हुआ था. घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम में कोई बदलाव नहीं किया गया था. दिल्ली में कमर्शियाल सिलेंडर का दाम अभी भी 2000 रुपये के पार है. पहले यह 1733 रुपये का था. वहीं, मुंबई में 1683 रुपये में मिलने वाला 19 किलो का सिलेंडर फिलहाल 1950 रुपये में मिल रहा है. कोलकाता में 19 किलो वाला इंडेन गैस सिलेंडर 2073.50 रुपये का और चेन्नई में 19 किलो वाला सिलेंडर के लिए 2133 रुपये मिल रहा है.

इसके साथ ही नए साल में डिजिटल पेमेंट को लेकर बड़ा बदलाव होगा. इसको लेकर अभी से ही सभी बैंक अपने-अपने ग्राहकों को जानकारी दे रहा है. डिजिटल पेमेंट के बढ़ा हुआ शुल्क मुफ्त मासिक सीमा समाप्त होने के बाद लागू हो जाएगा. कई बैंक अब 1 जनवरी 2022 से मुफ्त सीमा से अधिक एटीएम लेनदेन शुल्क दर को 20 रुपये के साथ जीएसटी शुल्क लगता था जो अब बढ़कर 21 रुपये और जीएसटी शुल्क कर दिया जाएगा. अब ग्राहकों को पहले की तुलना में एक रुपये से ज्यादा देने होंगे.