इनकम टैक्स रिटर्न भरना हो या कोई बैंक से जुड़ा काम हो पैन कार्ड (PAN card) यानी पर्मानेंट अकाउंट नंबर एक बेहद जरूरी दस्तावेज है। इसका यूज निवेश जैसे कामों में भी किया जाता है। पैन कार्ड नंबर (PAN Card Number) में व्यक्ति का टैक्स और निवेश सम्बंधित डाटा होता है। हालांकि, पैन कार्ड खो जाने की स्थिति में आपके लिए समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में आप e-PAN Card के जरिए भी अपना काम चला सकते हैं।

कम पैसे में अच्छा मुनाफा कमाना चाहते हैं तो आज हम आपको ऐसे बिजनेस के बारे में बता रहे हैं जिसमें आप कम पैसे निवेश कर जबरदस्त मुनाफा कमा सकते हैं। इस खास बिजनेस को आप बस 25,000 रुपये सालाना खर्च करके शुरू कर सकते हैं और इससे आप औसतन 1.75 लाख रुपये महीने की कमाई (Profitable Business) हो सकती है। आपको हम बता रहे हैं मछली पालन (Fish Farming) के व्यवसाय के बारे में। मछली पालन (Fisheries) भी आज कल बहुत बढ़िया मुनाफा दे रहा है।

आजकल मछली पालन का बिजनेस बहुत ज्यादा प्रचलित हो रहा है। सरकार की मदद से शुरू किए जाने वाले इस बिजनेस में 2 लाख रुपये से ज्यादा की आमदनी होती है। गौरतलब है कि केंद्र सरकार भी कई सुविधाएं देती हैं। आप जिस राज्य में इसे शुरू करना चाहते हैं, वहां से मत्स्य संबंधित कार्यालय में पूछताछ कर सकते हैं।

अगर आप भी मछली पालन का व्यवसाय कर रहे हैं या फिर इसे शुरू करना चाह रहे (Start own business) हैं तो इसकी आधुनिक तकनीक आपको बंपर मुनाफा दे सकती है। मछली पालन के लिए इन दिनों बायोफ्लॉक तकनीक (Fish Farming Business by Biofloc Technique) काफी मशहूर हो रहा है। कई लोग इस तकनीक का इस्तेमाल करके लाखों में कमाई कर रहे हैं।

फिशरीज बिजनेस के लिए Biofloc Technique एक बैक्टीरिया का नाम है। इस तकनीक के जरिए मछली पालन का बिजनेस बहुत आसान हो जाता है। इसमें बड़े बड़े (करीब 10-15 हजार लीटर के) टैंकों में मछलियों को डाला जाता है। इन टैंकों में पानी डालने, निकालने, उसमें ऑक्सीजन देने आदि की अच्छी खासी व्यवस्था होती है। बायोफ्लॉक बैक्टीरिया मछली के मल को प्रोटीन में बदल देता है, जिसे मछलियां वापस खा लेती हैं, इससे एक-तिहाई फीड की बचत होती है। पानी भी गंदगी होने से बची रहती है। अगर खर्च की बात करें तो आप 7 टैंक से अपना कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो इन्हें सेटअप करने में आपका करीब 7.5 लाख रुपये का खर्च आएगा। हालांकि, आप तालाब में मछली पालकर भी मोटी कमाई कर सकते हैं।

मछली पालन एक ऐसा बिजनेस है जिसमें आपको कम खर्च के साथ बेहतरीन मुनाफा मिलता है। सरकार भी मछली पालन के व्यवसाय को बढ़ावा (Fisheries Business) दे रही है। मछली पालकों को प्रोत्साहित करने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने इसे कृषि (Agri) का दर्जा भी दिया है। राज्य सरकार मछली पालन करने वाले किसानों को इंटरेस्ट फ्री लोन की सुविधा दे रही है। साथ ही मछुवारों के लिए बीमा योजना और सब्सिडी भी सरकार की तरफ से मिलती है।

देश के अलग-अलग राज्यों में फिशरीज के लिए किसानों को ट्रेनिंग भी दी जाती है। किसान इस ट्रेनिंग के बाद इस व्यवसाय में महज 25 हजार रुपये लगाकर मुनाफा कमाने लगते हैं। इसके लिए आपके पास कुछ तकनीक और जगह होन चाहिए। इसके तहत मछुवारों के लिए बीमा योजना और सब्सिडी भी सरकार की तरफ से मिलती है।