कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में लगातार इजाफा होता ही जा रहा है। कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने कई सख्ती बरती है लेकिन फिर भी कोरोना काबू में नहीं आ रहा है। भारी इजाफे का सामना कर रहे महाराष्ट्र के लिए अगले 48 घंटे बेहद अहम होंगे क्योंकि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने संबोधन में लोगों द्वारा खुद से पाबंदियों का पालन ना करने पर संपूर्ण लॉकडाउन की चेतावनी दी है।


सीएम ठाकरे ने कहा कि लोग आवश्यक सावधानी नहीं बरत रहे हैं इसी कारण से राज्य में कोरोना का विस्तार होता जा रहा है। अब राज्य के हालात बहुत ही चिंताजनक हो गए है। संपूर्ण तालाबंदी की नौबत ना आए इसके लिए सावधानी बरतना शुरू कर दें। उद्धव ठाकरे ने लोगों से कहा कि दो दिनों में सख्त पाबंदी लगायी जाएगी। लॉकडाउन का फैसला 48 घंटों में ले लिया जाएगा।

महाराष्ट्र में संक्रमण के 47,827 मामले सामने आये हैं। 62 फीसदी भरे हुए हैं आइसोलेशन बेड। जिससे चिंताकारी हालात हैं। मुख्यमंत्री ने बताया कि ''राज्य में 2.2 लाख आइसोलेशन बेड हैं जिनमें से 62 फीसदी भरे हुए हैं और  20,519 आईसीयू बिस्तरों में से 48 फीसदी पर मरीज भर्ती हैं, जबकि ऑक्सीजन की उपलब्धता वाले 62,000 बिस्तरों में से 25 फीसदी पर मरीज हैं. इसी तरह 9,347 वेंटिलेटर में से 25 फीसदी पर मरीज हैं ''।