एक जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान गुवाहाटी हाईकोर्ट ने असम सरकार और अन्य संबन्धित शीर्ष अधिकारियों को पांच सौ करोड़ के बीमा घोटाले को लेकर नोटिस जारी किया हैं। अदालत ने इस बारे में सरकार से  तीन सप्ताह के अंदर हलफनामा दाखिल करने को कहा हैं।

बता दें कि जितुल डेका नामक व्यक्ति ने याचिका संख्या 44/2018 के जरिए राज्य के अनेक हिस्सों, खासतौर से बरपेटा, धुबड़ी, दरंग और नगांव जिलों में हुए तकरीबन पांच सौ करोड़ रुपये के बीमा घोटाले का मामला दायर किया था।

याचिकाकर्ता ने इसमें राज्य सरकार के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के अलावा मेडिकल रिकार्ड विभाग के कर्मियों,बीमा एजेंटों व कर्मियों आदि के मिलीभगत का आरोप लगाया था।हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए असम सरकार को तीन सप्ताह में जवाब देने को कहा हैं।

राज्य सरकार के हलफनामें के बाद इस मामले में आगे सुनवाई होगी। याचिका में राज्य सरकार के हलफनामें के गृह व राजनीति विभाग के प्रधान सचिव,पुलिस महानिदेशक, स्वास्थय सेवाओं के निदेशक, बरपेटा के संयुक्त निदेशक स्वास्थय सेवाएं आदि को पक्ष बनाया गया था।