देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कारपोरेशन ऑफ इंडिया (LIC IPO) के शेयरों ने आज 17 मई को फाइनली शेयर बाजार में डेब्यू कर लिया है। एलआईसी के शेयर आज मंगलवार को बीएसई (BSE) और एनएसई (NSE) पर लिस्ट हो गए। बीमा कंपनी के शेयरों ने निवेशकों को लिस्टिंग के पहले दिन निराश किया है। कंपनी के शेयर बीएसई पर 81.80 रुपये डिस्काउंट यानी 8.62% गिरावट के साथ 867.20 रुपये प्रति शेयर पर लिस्ट हुए हैं। वहीं, NSE पर एलआईसी के शेयर 77 रुपये डिस्काउंट पर लिस्ट हुए। एनएसई पर कंपनी के शेयर 8.11 पर्सेंट की गिरावट के साथ 872 रुपये पर लिस्ट हुए हैं। 

यह भी पढ़े : Aaj ka rashifal 17 May 2022: आज इन चार राशियां पर किस्मत रहेगी मेहरबान , बजरंग बली की आराधना करें


हालांकि, लिस्टिंग के करीब 10 मिनट बाद 10:02 बजे एलआई के शेयरों में थोड़ी रिकवरी नजर देखी जा रही है। बीएसई पर कंपनी के शेयर 4.36% पर्सेंट की गिरावट के साथ 907.60 रुपये पर ट्रेड कर रहे हैं। वहीं, इस समय एनएसई पर एलआईसी के शेयर 4.72% की गिरावट के साथ 904.25 रुपये पर ट्रेड कर रहे हैं।

यह भी पढ़े : Numerology Horoscope 17 May : 17 मई को इन तारीखों में जन्मे लोगों का चमकेगा भाग्य, धन लाभ के संकेत


आपको बता दें कि LIC का आईपीओ 9 मई को बंद हुआ था और 12 मई को बोली लगाने वालों को इसके शेयर आवंटित किए गए। सरकार ने आईपीओ के जरिये एलआईसी के 22.13 करोड़ से अधिक शेयर यानी 3.5 प्रतिशत हिस्सेदारी की पेशकश की है। इसके लिए कीमत का दायरा 902-949 रुपये प्रति शेयर रखा गया था।

यह भी पढ़े : Shani Jayanti 2022 : 30 मई को मनाई जाएगी शनि जयंती , जानिए पूजा- विधि और शुभ मुहूर्त


एलआईसी के आईपीओ को करीब तीन गुना सब्सक्रिप्शन मिला था। इसमें घरेलू निवेशकों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया, जबकि विदेशी निवेशकों की प्रतिक्रिया ‘ठंडी’ रही। यह देश के इतिहास का सबसे बड़ा आईपीओ है। सरकार ने इस निर्गम के जरिये एलआईसी में अपनी 3.5 फीसदी हिस्सेदारी की बिक्री करने का फैसला किया है। इस हिस्सेदारी की बिक्री से सरकार को करीब 20,557 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद थी।

इस राशि के साथ एलआईसी का निर्गम देश का अबतक का सबसे बड़ा आईपीओ साबित हुआ है। इसके पहले वर्ष 2021 में आया पेटीएम का आईपीओ 18,300 करोड़ रुपये का था। उससे पहले वर्ष 2010 में कोल इंडिया का आईपीओ करीब 15,500 करोड़ रुपये का था।