पूर्व आईएएस रोमन सैनी ने कुछ बड़ा काम करने के सपने को पूरा करने के लिए आईएएस की नौकरी छोड़ दी।  आज से करीब छह साल पहले उन्होंने अपनी-अपनी जॉब छोड़कर खुद की कंपनी अनएकेडमी की नींव रखी, तब लोगों को काफी हैरानी हुई।  वे मध्य  प्रदेश कैडर के आईएएस रहे हैं, जब उन्होंने इस्तीफा दिया, उस समय वे जबलपुर में पोस्टेड थे और उनके अचानक इस्तीफा देने से लोगों को अचंभित कर दिया था। 

सुपर टैलेंटेड रोमन सैनी ने मात्र 16 साल की कम उम्र में सबसे मुश्किल एआईआईएमएस परीक्षा पास कर लिया था।  रोमन सैनी आज देश के गरीब बच्चों को सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने में ऑनलाइन मदद करते हैं।  

16 साल की उम्र में एम्स की एंट्रेंस परीक्षा पास करने के बाद उन्होंने आईएएस बनकर मां-बाप का नाम रोशन किया।  करीब छह साल पहले जब उन्होंने अपनी जॉब छोड़कर खुद की कंपनी अनएकेडमी की नींव रखी, तब लोगों को हैरानी हुई थी। 

पूर्व आईएएस रोमन सैनी राजस्थान के कोटपुतली के रायकरनपुर के निवासी है। . रोमन सैनी की मां गृहिणी और पिता इंजीनियर हैं।  एमबीबीएस पूरा करने के बाद रोमन सैनी ने एनडीडीटीसी में बतौर जूनियर रेजिडेंट काम किया।  22 साल की उम्र में आईएएस की मुश्किल परीक्षा पास करके वे 23 साल की उम्र में प्रशासनिक सेवक बन गए।  उन्होंने आईएएस परीक्षा में पूरे देश में 18वां रैंक हासिल किया था। 

रोमन सैनी ने कहा, साल 2011 में जब मैं एक डॉक्टर के रूप में कुछ मेडिकल कैंप में गया तो मुझे महसूस हुआ कि गरीबी बहुत खतरनाक चीज है।  लोगों में उनकी सेहत, साफ-सफाई और पानी की समस्या को लेकर जागरुकता का अभाव था। ये मूल समस्याएं हैं, जिनका निदान करना आवश्यक है।  एक डॉक्टर होने के नाते मैं इनकी समस्या दूर करने में समर्थ नहीं था।  उस वक्त मैंने फैसला किया कि अपने देश के लोगों का जीवन बेहतर बनाने के लिए सिविल सेवा में जाना जरूरी है। 

रोमन ने देश के लाखों बच्चे के सपने वाली आईएस की नौकरी आधी ही छोड़ द। . उन्होंने युवाओं की बेहतर पढ़ाई के लिए अनएकेडमी शुरू करने का फैसला किया।  रोमन सैनी की अनएकेडमी का हेडक्वार्टर बेंगलुरु में है।  इस समय अनएकेडमी की वैल्यूएशन 14000 करोड़ रुपये से अधिक है।  अनएकेडमी एक ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म है, जहां आईएएस समेत 35 अलग-अलग प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कराई जाती है।  यू-ट्यूब और ऐप पर अनएकेडमी युवाओं के बीच काफी पॉपुलर है। 

रोमन का मन आईएएस बनकर भी नहीं लगा।  रोमन सैनी को लगा कि देश में कुछ बच्चे ऐसे हैं, जो पढऩे में बहुत अच्छे हैं, लेकिन सही मार्गदर्शन न मिलने की वजह से वे प्रतियोगी परीक्षा में सफल नहीं हो पाते।  रोमन ने फैसला किया कि वे फ्री ऑनलाइन कोचिंग के जरिये इस तरह के युवाओं की मदद करेंगे।  इसके लिए उन्होंने अनएकेडमी की शुरुआत की।  यह ऑनलाइन कोचिंग वेबसाइट है जिसे वेअपने दोस्त गौरव मुंजाल के साथ मिलकर चलाते हैं। रोमन सैनी अब उन स्टूडेंट्स को ऑनलाइन फ्री कोचिंग दे रहे हैं जो सिविल सेवा में जाने को इच्छुक हैं। 

रोमन ने गरीब छात्रों के लिए अपने दोस्तों के साथ मिलकर अनएकेडमी नाम का एक संस्थान शुरू किया।  उन्होंने ऑनलाइन कोचिंग शुरू की और छात्रों का मार्गदर्शन करना शुरू किया।  अनएकेडमी वाईफाई, प्रेप लेडर, कोड शेफ, मास्टरी जैसी कंपनी एक्वॉयर कर चुकी है।  इसके अलावा अनएकेडमी आईपीएल की भी ऑफिशियल पार्टनर भी रह चुकी है।  यूट्यूब पर भी रोमन सैनी के वीडियो से हजारों छात्र मार्गदर्शन लेते हैं।